By | April 17, 2023

Dever Bhabi ki Chudai:हैलो दोस्तो,  मेरा नाम सारा अंसारी है मैं पुणे में रहती हु और 24 साल की हु मैं जानती हु की आप सब उत्सुक है तो मैं बता देती हु की मेरा फिगर साइज है 36-30-38 कहानी शुरू करने से पहले मैं अपना बैकग्राउंड बताती हु।विक्की को मैंने बच्चा समझ रखा था उसका हथियार थोड़ा सा पतला ज़रूर था लेकिन लम्बा तो ब्लू फिल्म के हब्शियो के जैसा था।

उसके लंड का साइज 11 इंच था मेरा तो पानी ही निकाल दिया था उसने अब सुबह हो चुकी थी सब अपनी दिनचर्या में लग गयी थी।

Dever Bhabi ki Chudai:

ससुर तो थे नहीं क्युकी वो आउट ऑफ़ स्टेशन थे दोपहर को देवर और पति के साथ मैं भी रूम में थी।

मैं और विक्की वीडियो गेम खेल रहे थे लैपटॉप पे हम हस्सी-मज़ाक करते हुए खेल रहे थे और एक-दुसरे से लड़ भी रहे थे फिर मेरी साड़ी का पल्लू कंधे से नीचे गिर गया जिसकी मुझे परवाह भी नहीं थी। Dever Bhabi ki Chudai:

Sexy bhabi ki chudai

अब मेरे बूब्स के बड़े-बड़े उभार बाहर झाँक रहे थे और गोरा सा लॉस-लैसा सा पेट और नाभि भी दिख रहे थे ब्रा भी नहीं पहनी थी मैंने फिर मज़ाक में लड़ाई करते हुए रह-रह कर विक्की मेरे पेट को और कमर को पकड़ रहा था और मुँह भी पेट में गर्दन पे और उभारो पे रगड़ रहा था।

मेरे पति को ये सब देख कर जलन भी हो रही थी और उसका मन  भी कर रहा था मुझे चुतने के लिए इसीलिए वो खुद भी पास ही आ कर बैठ गया।

फिर मैं लेट गयी, अब वो दोनों थके होने का बोल कर मेरे अगल-बगल में पति और देवर दोनों बैठे बात करने लगे।

विक्की बात करते-करते कई बार मेरे पेट पे हाथ लगा रहा था पति को जलन हुई।

ये देख कर लेकिन उनकी मना करने की हिम्मत नहीं हुई मेरे सामने इसलिए पति ने खुद ही अपना हाथ पेट पे ही फिरना शुरू कर दिया।

ताकि विक्की को पेट पे हाथ लगाने की जगह ही ना मिले फिर विक्की ने भी मौका देख कर अपना हाथ मेरी नाभि पे रख दिया।

पति ने जब उसको टोका तो दोनों भाइयो में हलकी-फुलकी तकरार हुई इस बात को लेकर फिर विक्की ने देवर होने का पावर दिखाते हुए कहा-

विक्की: जब भाभी को समस्या नहीं है तो आपको क्या प्रॉब्लम है? वो भाभी है मेरी उनको टच तो करूँगा ही मुझे रोमांच सा हो रहा था दोनों की लड़ाई देख कर। Dever Bhabi ki Chudai:

Moti bhabi ki chudai

तब मैंने पति को कहा-

मैं: बच्चा ही तो है क्यों जलते हो इससे? देवर है ये मेरा देवर भाभी में मस्ती तो होती ही हैअब मेरा पति बेचारा क्या बोलता? लेकिन विक्की खुश हो गया फिर कुछ देर बाद विक्की के 2 दोस्त आ गए और विक्की उनसे मिलने की बात कह कर घर के बाहर निकल गया।

फिर मेरे पति ने पेट पे हाथ फिरते हुए ब्लाउज खोलना चाहा लेकिन टाइट होने के कारण नीचे के बटन टूट गए और ब्लाउज ढीला हो गया।

फिर मैंने बिना ब्लाउज खोले ही एक बूबस बाहर निकाल दिया मेरे पति ने मेरे बूब्स को पकड़ लिया और चूसने लगे।

फिर मेरी साड़ी ऊपर करके अपने छोटे से लंड से उन्होंने मेरी चुदाई की और वो 3-4  मिनट में ही चुदाई करके ठन्डे हो गए।

फिर मैं बोली-

मैं (गुस्से से): बेवकूफ हो क्या? मुझे गरम तो कर दिया अब ठंडा कोन करेगा? तुम्हारा तो बाप भी नहीं है यहाँ पे अब मैं क्या करू?

पति: सॉरी तुम जो बोलोगी वो करूँगा मैं प्लीज।

मैं: कोई बात नहीं आज दिन भर में कम से कम तुम अपनी ही मन की शांति करो मेरा तो अब देखा जायेगा।

ये कहते हुए मैंने पति के सामने ही 2 पेग वोडका के बनाये लेकिन मौका देख कर आधी शराब गिरा दी।

पति ने भी 1 पेग लिया फिर मैंने नाटक किया की जैसे मैं नशे में थी मेरे पति को जब यकीन हो गया की मैं बहुत नशे में थी तो पति भी एक पग पी कर जोश में आ गए।

फिर उन्होंने मेरे ढीले ब्लाउज को ऊपर करके दोनों बड़े-बड़े बूब्स को बाहर निकाल लिया और निप्पल सहित चारो तरफ काफी देर तक चूसते रहे। Dever Bhabi ki Chudai:

मेरे बूब्स में जगह-जगह दाग पड़ गए थे क्यूंकि रंग दूधिया था मुझे मज़ा भी आ रहा था इसलिए मैं चुप-चाप पड़ी रही।

फिर पति ने बूब्स चूसते हुए कई जगह दांत भी गड़ाए धीरे-धीरे उसके बाद पेट पे कई जगह चूसा उन्होंने और नाभि के नीचे भी चूसा फिर उन्होंने चुत को इतनी बुरी तरह से चूसा की मेरा पूरा तो नहीं लेकिन थोड़ा पानी निकल गया।

पति का मुँह भी सूज गया था चूसने के कारण और उनका मुँह थक भी गया था मुझे नशे में देख कर वो खुद भी थोड़े नशे के जोश में तो था ही फिर उन्होंने मुझे गालिया बकते हुए मेरे कपडे ऊंचे करके मेरी चुदाई की अपनी छोटी सी 5 इंच की लुल्ली  से , साथ में उन्होंने मेरे बूब्स भी प्रेस किये उन्होंने ससुर जी के स्टाइल में मेरे बूब्स पेट पीठ और जांघो पे हाथो से थप्पड़ की तरह मार कर लाल किया।

Bhabi ki chudai story

मैं नशे की एक्टिंग करती हुई बस रुक-रुक कर इतना ही कह रही थी लड़खड़ाते हुए की ‘छोड़ो न प्लीज’जब भी मैं ये कहती तो मेरे पति और जोश में आ कर हाथ से मेरे पेट और बूब्स को मारते।

फिर वो गालिया देते हुए कहने लगते-

पति: रंडी तेरी चुत की आग को मेरे बाप ने बुझाया तो क्या गलत किया? जो काम बेटा नहीं कर सकता वो बाप ही तो करेगा ना? और बहुत कुछ बोलै उन्होंने।

फिर मैं सो गयी और नशे के नाटक में ही रही इवनिंग के 6 बज गए थे फिर मुझे मेरे देवर का फ़ोन आया वो पहुँचने ही वाला था घर पे ये सुन कर पति ने जल्दबाज़ी में मेरा ब्लाउज नीचे लिया और साड़ी तो खुली हुई थी ही इसलिए पेटीकोट को ठीक से पहना कर नाडा बाँध दिया।

मैं नशे की एक्टिंग करती हुई सी पड़ी रही इतने में देवर विक्की आया और साथ में समोसे कोल्ड-ड्रिंक चिप्स केक कई आइटम्स मेरी मैं पसंद की लेकर आया था।

वो मैं लेती हुई और मैंने लड़खड़ाते हुए उसकी बातो का आधा अधूरा सा जवाब दिया विक्की समझ गया था की मैं नशे में थी पति ने बाद में भी 1 पेग लगाया था 

इसलिए वो होश में तो था लेकिन नशा भी था फिर मैं पेशाब करने को उठी तो मुझे लड़खड़ाते देख कर विक्की ने मुझे सहारा दिया मेरी कमर पकड़ कर जब  मैं जब गिरने को हुई तो उसने मुझे संभाला।

उसने एक हाथ से मेरी कमर को पकड़ा और बोला-

विक्की: पेशाब कर लो तो बोल देना मैं भीतर आ जाऊंगा और ये बोल कर उसने बाहर इंतज़ार किया 2-3  मिनट बाद मैंने आवाज़ दी तो विक्की टॉयलेट के अंदर आ गया।

मैंने उसको आँख मार कर बता दिया की मैं नशे में नहीं थी लेकिन मुझे नाटक करना था और पति के सामने ही मस्ती करनी थी विक्की तो तैयार ही था इसके लिए।

फिर मैंने विक्की को पकडे हुए बिस्तर तक आ कर लेट गयी और पेटीकोट को नीचे किया मैंने पेटीकोट नाभि से नीचे कर लिया था मेरे पति ने पेटीकोट का नाडा टाइट कर दिया था। Dever Bhabi ki Chudai:

जिससे मुझे दर्द हो रहा था और दाग हो गया था फिर विक्की ने मेरे पेट पे पड़े दाग को सहलाते हुए हमदर्दी जताते हुए बात शुरू की।

Hot Bhabi ki chudai

मैं अनजान सी बनी रही नशे की एक्टिंग करती रही तभी विक्की नाभि के नीचे पड़े सूजन के दाग को भी सहलाने लगा।

मेरे पेट पे भी उंगलियों के निशाँ थे जो पति ने मारा था उसके अब मेरा पति डरा हुआ सा था फिर विक्की ने मेरे पूरे गदराये हुए पेट को सहलाते हुए मेरी नाभि में ऊँगली घुसा दी।

मेरे पति को बुरा लगा और विक्की से तकरार भी हुई विक्की ने तकरार करते हुए कहा-

विक्की: भैया आपने भाभी की पिटाई क्यों की? अगर ये होश में आयी तो आपसे लड़ाई होगी और अगर भाभी ने आपको छोड़ दिया और तलाक ले लिया तो क्या होगा?

ये सुन कर मेरे पति की गांड फट गयी और वो डर गया फिर वो बोला-

पति: गलती हो गयी मुझसे अब क्या करू मैं? अगर इसने पापा को शिकायत की तब भी मैं बुरी तरह फसूंगा मुझे बचाओ प्लीज तू तो बहुत समझदार है कुछ कर ना।

विक्की(सोचते हुए): एक उपाय है आप एक पेग और ले लो ताकि लगे की आप नशे में थे और मैं भाभी को आपकी जगह बन कर प्यार करता हु किश तो ये समझेंगी की ये सब मैंने किया है सारा दोष मैं अपने ऊपर ले लूँगा।

इससे कम से कम आपका दाम्पत्य जीवन तो बैच जायेगा।

पति: हां ये आईडिया बिलकुल सही है मैं बाहर जाता हु क्युकी मुझसे नहीं देखा जायेगा की तू इसके पेट पे किश करेगा।

विक्की: नहीं भैया आप और शराब पी लो फिर आपके सामने ही करूँगा नहीं तो इलज़ाम लगेगा की आप घर में थे और आपने ही जान-बूझ कर करवाया है।

पति विक्की के आईडिया से पूरी तरह से सहमत हो गए और शराब पीने लगे तब विक्की ने उनसे कहा-

विक्की: भैया शाराब के साथ-साथ समोसे खा लो और चटनी उसने मेरे पेट पे ही उढेल दी मेरी नाभि के अंदर भी चटनी भर गयी थी। Dever Bhabi ki Chudai:

Devar bhabi ki chudai

फिर पति बोले-

पति: विक्की देख तू कुछ भी कर लेकिन ये भाभी है तेरी इसलिए मर्यादा भी रखना इसकी नाभि के पीछे तू वैसे ही पड़ा ही रहता है।

विक्की: देखो भैया ये बात भाभी को भी पता है की मुझे नाभि बहुत पसंद है इसलिए नाभि पे अगर दाग नहीं करूँगा तो इसको शक हो जायेगा और इसकी आँखों पे पट्टी भी बाँध देता हु।

पति (शराब पीते हुए): तू ठीक कह रहा है लेकिन हल्का ही दाग करना भाभी है तेरी।

मैं उन दोनों की बाते सुन कर चुप रही फिर विक्की ने मुझे भी समोसा कोल्ड-ड्रिंक केक खिलाया और मेरी नाभि को ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगा उसने मेरी नाभि में दांत भी गड़ाए धीरे से लेकिन मैंने दर्द भरी चीख निकाली।

मेरे पति को नशा चढ़ रहा था जब विक्की को मेरे पति ने टोका तो विक्की बोल-

विक्की: भैया मुझे अपना काम करने दो मैं नाभि को तो काटूंगा ही और ये कहते हुए मेरा ब्लाउज ऊपर करके दोनों बड़े-बड़े बूब्स बाहर निकाल दिए

इससे मेरे पति सकपका गए लेकिन विक्की ने ज़िद्द पे आ कर उनको जवाब दे दिया और उनको चुप भी करा दिया

फिर विक्की ने पति के सामने ही मेरे दोनों बूब्स के निप्पल्स और बूब्स को ज़बरदस्त दबा-दबा कर चूसा ये देख कर मेरे पति ने कहा-

पति: भाभी है तेरी तूने तो इसके बूब्स चूसने शुरू कर दिए शर्म आनी चाहिए तुझे, छोड़ इसको,

विक्की: बूब्स पे दाग किये आपने और इलज़ाम लगेगा मुझ पर तो फिर मज़े लेने का भी तो हक़ बनता है न मेरा और मैं अगर थोड़ा चूस भी लूँगा तो कोन सा ये चॉकलेट है जो ख़तम हो जाएगी?

ये सुन कर पति चुप हो गए उन दोनों की बाते सुन-सुन कर मुझे मज़ा आ रहा था पति की हालांत देख कर अच्छा लग रहा था मुझे। Dever Bhabi ki Chudai:

Sasur bahu ki chudai

अब मेरा देवर विक्की जब दांत गाड़ता थे बूब्स पे और मैं ज़ोर से चीखती थी तो दर्द पति को हो रहा था।

फिर विक्की ने मेरे दोनों बूब्स को बहुत देर तक दबाया मेरी नाभि में विक्की ने शराब डाली और पति को पीने को कहा विक्की ने नाभि के अंदर नमक भर दिया और एक गिलास में ठूंस-उप डाल के ग्लास को उल्टा करके नाभि पे रख दिया नमक और ठूंस-उप के रिएक्शन से हलकी सी गुदगुदी सी हुई मेरी नाभि में फिर वो गिलास को थोड़ा सा टेढ़ा करके स्किन को चूसते हुए ठूंस-उप पी गया।

मेरे पति ने भी बूब्स को चूसना शुरू कर दिया फिर विक्की ने पति के सामने ही मेरे पेटीकोट का नाडा खोल दिया और नीचे खिसका कर दाग देख के बोल-

विक्की: भैया आपने यहाँ भी दाग कर दिया? पति ये सुन कर चुप रहा फिर विक्की ने पेटीकोट ही उतार दिया मेरी जांघो पे भी दाग थे विक्की ने सभी जगह को चूसा प्यार से और फिर वो मेरी चुत की क्लीट को चूसने लगा मेरे पति को शराब का नशा चढ़ भी गया था।

फिर भी उसको ये होश था की उसकी बीवी की इज़्ज़त खतरे में थी मेरी क्लीट को लगातार चूसने के कारण मैं उह्ह्ह ओफ़्फ़्फ़्फ़ उफ्फ्फ कर रही थी देवर ने मुझे पेट पे थपकियो से मारा भी पति (नशे में ही लड़खड़ाती आवाज़ में): इसको नंगा भी कर दिया चूस के दाग और भी ज़्यादा कर दिए और अब पिटाई भी कर रहा है भाग यहाँ से ,

विक्की: चुप रहो तू कुछ कर भी नहीं सकता अब तू नशे में है फिर उसने पति के साथ-साथ मेरे भी हाथ बाँध दिए और बोला –

विक्की: अब मैं तेरी बीवी यानि की मेरी प्यारी भाभी के गोर और गदराये हुए मोठे शरीर की चुदाई करूँगा तुम आराम से देखो और अगर ज़्यादा चीखोगे और भाभी को होश आ गया तो सारा कसूर तुम्हारे नाम पे ही लगेगा।

पति बस मना करता ही रह गया और देवर विक्की ने मेरी चुत के अंदर एक झटके में 11 इंच का लंड घुसेड़ दिया उसने लंड का झटका सीधे मेरी नाभि तक आ कर लगा मेरी चीख सी निकली-

मैं: उईईईईई ये क्या डाल दिया इतना बड़ा? और मैं मोअन करने लगी आअह्ह्ह आठ करके लगातार चुदाई होती रही 25-30  मिनट तक और उसने मेरी चीखे निकाल दी उस 19 साल के लोण्डे ने और 2 बार मेरा पानी निकाल दिया और अपना सारा वीर्य उसने मेरे अंदर ही डाल दिया, जब विक्की झड़ गया तब उसने तुरंत पति के हाथ खोल दिए और मैंने नशे से बाहर आने का नाटक किया। Dever Bhabi ki Chudai:

Sasur bahu ki chudai kahani

मैं गुस्सा होते हुए रोने लगी और बोली-

मैं: तुम दोनों भाइयो ने मिल कर देवर से ही मुझे चुदवा दिया।

पति (गिड़गिड़ाते हुए): इसने यानि की विक्की ने धोका किया है और वो रोने लगे नशे में ही ।

विक्की: सॉरी भाभी मैंने आपको नंगा देखा तो खुद को रोक नहीं पाया आपका गोरा-चिट्टा गदराया शरीर किसी को भी पागल कर सकता है वैसे ही मैं भी पागल हो गया।

मैं: क्या सच में मुझमे इतनी सुंदरता है?

विक्की: सच भाभी।

पति- शर्म कर विक्की तूने अपनी ही भाभी को चोद दिया अब दुनिया को क्या मुँह दिखाएंगे?

मैं: चुप करो दोनों जो हुआ सो हुआ दुनिया को बताने की ज़रुरत नहीं है अब सब कुछ कर ही दिया है तो अब शर्म करके फ़ायदा भी नहीं और ये सारी गलती पति की है।

पति: मुझे माफ़ कर दो मुझे नहीं मालूम था की ये तुमको चोद के रख देगा वो भी इतनी बुरी तरह से और इतनी देर तक।

मैं (पति से): माफ़ नहीं करुँगी मैं सजा तो तुम दोनों को ही मिलेगी रात भर विक्की को जो करना है करे इसने मेरे मज़े लिए मैं भी इसके मज़े लूंगी।

मैं अपने पति के सामने चुदगी तो इसको अपनी बीवी दुसरे से चुड़ते देखने की सजा मिलेगी, 

हम तीनो ही नार्मल हो चुके थे और बाहर घूम फिर के वापस आये फिर खाना खाया और टीवी देखते हुए विक्की और पति के साथ मस्ती होने लगी।

विक्की ने पेट पे हाथ फिरना शुरू किया तो मैं भी उसकी चेस्ट पे और निप्पल पे उँगलियाँ फिरते हुए बात-चीत करने लगी।

अब हम तीनो ही मस्ती करते हुए मज़ाक-मज़ाक में लड़ने लगे और मैंने विक्की को दबोच के उसकी बनियान फाड़ दी।

 फिर मैंने उसके निप्पल चूसने शुरू कर दिए पति और विक्की ने भी मेरे बूब्स होंठ चूसते हुए मुझे नंगा कर दिया।

फिर पति मेरे ऊपर लेट कर चुदाई करने लगा विक्की मेरे बूब्स दबाते हुए चुदाई देखता रहा पति का तुरंत ही पूरा हो गया और वो उतर गया। Dever Bhabi ki Chudai:

Sasur bahu ki chudai story

फिर मैंने टॉयलेट जा कर चुत को साफ़ किया और बेड पे आ कर नंगी ही लेट गयी उत्तेजित हो चुकी थी।

अब  विक्की ने मेरी नाभि में ऊँगली डाली और फिर नाभि को चूसने लगा और मैं अपने हाथो से उसके लंड को दबाने लगी, विक्की ने कोलगेट लेकर मेरी चुत पे और अपने लंड पे फैला दिया और कपडे से साफ़ करके चुत की क्लीट को चूसते हुए 69 की पोजीशन में लंड मेरे मुँह के पास लाया उसके लंड को खुद ही पकड़ के मैंने मुँह में ले लिया।

पेपरमिंट की खुशबु और मीठा सा टेस्ट आया तो मैं लंड को चूसने लगी विक्की ने भी मेरी चुत की क्लीट को और चुत को चाटते हुए चूसते हुए गांड के छेद को भी चूसा पति ये सब आँख फाड़ के देख रहा था।

फिर मैंने पति को बोल: सीखो ये सब सिर्फ लंड घुसेड़ के आगे-पीछे करना ही सेक्स नहीं होता है फिर पति ने मेरे कहने पे चुत की क्लीट को चूसा तब तक मैं विक्की का लंड चूसती रही और विक्की मेरी नाभि चूसता रहा पति के सामने ही विक्की ने चुत में लंड घुसेड़ा और ताबड़-तोड़ झटकों से मेरी आवाज़ें बाहर निकलने लगी बहुत ही मज़ा आ रहा था विक्की का लंड मुझे पेट के अंदर नाभि तक महसूस हो रहा था।

उसने बिना रुके लगातार झटके देते हुए बूब्स चूसते हुए दांत भी गड़ाए बूब्स पे इसके कारण गोर-गोर बूब्स पे लाल दाग पड़ गए पति बेचारा सब बैठे-बैठे देख रहा था।

मेरा पानी निकला और बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने विक्की को जबरन रोक दिया विक्की मेरे साथ ज़बरदस्ती कर भी नहीं सकता था क्यूंकि मैं उससे डबल थी और ताक़त भी ज़्यादा थी मुझमे, 

फिर भी मैंने कहा: तू 4-5 मिनट रुक तुझे पूरा करने दूँगी, विक्की ने मेरे बूब्स दबाते हुए नाभि को चूसते हुए जोश में आ कर नाभि में भी दांत गाड़ दिए। Dever Bhabi ki Chudai:

Sasur bahu ki chudai hindi

इससे मेरी चीख निकली और तुरंत से विक्की ने मुझसे माफ़ी मांगी।

ये सब देख कर पति को पहले से ही जलन तो थी ही तो अब पति डांटने लगा विक्की को और बोला-

पति: तूने बूब्स भी सुजा दिया नाभि को भी और पेट पे भी जगह-जगह चूस के दाग कर दिए मेरी बीवी है ये कोई रबर का खिलौना नहीं छोड़ दे इसको और फिर उन्होंने अपने हाथो से मेरे बूब्स पेट और नाभि को सहलाते हुए किश किया विक्की बेचारा डर सा गया और साइड में बैठ गया।

मैंने विक्की को आँख मारी तो उसके चेहरे पे ख़ुशी आ गयी पति का फिर से छोटा सा लंड खड़ा हो चूका था और वो मुझे चोदना चाहता था।

फिर मैंने विक्की को बोला –

मैं: तू रुक जा ये पति है मेरा इसको पहला हक़ मिलेगा जितनी बार चाहे उतनी बार मौका तो देना ही पड़ेगा, पति ये सुनते ही खुश हो कर मेरे ऊपर लेट गए फिर अपने छोटे लंड से चुदाई शुरू की मुझे लग रहा था की जैसे कोई पतली सी ऊँगली घुसी हो और 2 मिनट में ही लंड उनका ढीला हो गया।

पति के उतरते ही विक्की मुझ पर सवार हुआ और लगातार 7-8  मिनट तक चोदता रहा अपने बड़े लम्बे लंड से मेरा दोबारा पानी निकल गया साथ ही विक्की का भी।

फिर मैंने जोश में आ कर विक्की को बाहों में ज़ोर से जकड लिया विक्की मेरे गदराये शरीर पे ही पड़ा रहा कुछ देर तक उसका वज़न ज़्यादा नहीं था इसलिए मुझे भी अच्छा ही लग रहा था।

अब हम तीनो ही 1 से 2  घंटे तक के मज़े के बाद थकावट महसूस कर रहे थे फिर हम नंगे ही सोने लगे।

मैं दोनों के बीच में ही थी पति का हाथ मेरे एक बूब्स पे था और विक्की का हाथ पेट और ऊँगली नाभि के अंदर था  और मुँह बूब्स से सत्ता हुआ था तीनो को ही नींद भी आ गयीसुबह करीब 5 बजे पति पेशाब करने उठा और वापस आ कर बूब्स को चूसने लगा।

इससे मेरी नींद खुल गयी मैंने पति को कहा भी की सोने दो तंग मत करो लेकिन वो बूब्स को दबाते हुए चूसने लगा वो मुझसे रिक्वेस्ट करने लगा की मैं उसको चुदाई का मौका दे दू, ऐसे समय पे मैं हमेशा मना कर देती थी।

क्यूंकि मेरी तो नींद भाग जाती थी और वो अपना पूरा करके सो जाता था लेकिन मैंने सोचा पति की इच्छा भी रख ही लेती हु क्यूंकि पति भी तो मुझे अपने भाई से चुदवाता टाइम चुपचाप बेबसी से देखता था और वैसे भी विक्की तो मेरी प्यास बुझा ही देगा ये सोच कर मैंने पति को हां कर दी पति बहुत ही खुश होकर मेरे ऊपर चढ़ गया और 2 मिनट तक अपने छोटे से लंड से मेरी चुदाई की फिर वो ढीला होकर हाँफते हुए बगल में ही लेट गया।

अब तो मेरी भी इच्छा हो गयी थी चुदने की मैंने करवट लेकर विक्की को बाहों में भर लिया दुबला-पतला तो था ही विक्की और विक्की के चेस्ट पेट नाभि पे हाथ फेरते हुए लंड को पकड़ लिया।

फिर विक्की ने कहा: भाभी मुझे सोने दो प्लीज मैं तो उत्तेजित थी इसलिए विक्की को अपनी तरफ घुमा के उसका मुँह मेरे दोनों बूब्स के भीतर दबा लिया विक्की बूब्स चूसते हुए नाभि में ऊँगली डाल के सोने लगा मैं हैरान थी की चुदाई का मौका दे रही थी और वो मना कर रहा था। Dever Bhabi ki Chudai:

Sasur bahu ki chudai dikhayen

फिर मैं बूब्स चुसवाते हुए पड़े-पड़े नींद लेने लगी विक्की भी सो गया था कुछ देर बाद हम लोग उठे और नोर्मल्ली दिनचर्या के काम में रहे दोपहर को आराम करते वक़्त विक्की के सामने ही पति मुझे किश करते हुए मेरे पेट पे हाथ फिरने लगा।

मैंने देखा विक्की चुप-चाप टीवी देख रहा था उसको पता नहीं क्या हो गया था की वो मुझसे दूर-दूर सा था मैंने खुद ही ब्लाउज खोल दिया तो पति मेरे बूब्स दबाते हुए चूसने लगा विक्की सब कुछ देख कर भी चुप-चाप ही बैठा था।

फिर पति ने अपने छोटे से लंड से मेरी चुदाई शुरू कर दी लेकिन मेरा ध्यान तो सिर्फ विक्की पे था जो मेरी चुदाई तो देख रहा था लेकिन शांति से बैठा था पति 3 मिनट में ही ढीला पड़ गया तो मैं टॉयलेट जा कर अपनी चुत को साफ़ कर आयी।

अब मैं नंगी ही थी फिर मैंने सीधे आ कर विक्की को दबोच लिया और बेतहाशा किश किये लेकिन विक्की चुप ही रहा तो मैंने ही उदासीनता का कारण पुछा।

विक्की ने बताया की जब वो चुदाई करता है… तब उसको मैंने बीच में ही रोका वो विक्की को बुरा लगा और अपमान महसूस हुआ साथ ही ये भी बताया की पति ने भी उसको टोका ताकि वो भी बुरा लगे।

इसलिए वो अब से चुदाई नहीं करेगा ये सोचा था उसने मैंने उससे वादा किया: अब कोई नहीं टोका-टाकी  करेगा जिसकी जैसे मर्ज़ी है जितनी मर्ज़ी है मुझे चोदे मैं भी तो प्यासी ही हु और तू मुझे नहीं चोदेगा तो मैं अपनी प्यास बाहर वालो से बुझवाऊँगी।

फिर तुमको कैसा लगेगा? घर की इज़्ज़त बाहर नीलाम नहीं होगी? इतना सुनते ही विक्की ने कहा: नहीं भाभी तुमको बाहर वालो से नहीं प्यास बुझानी है जैसा बोलोगी मैं वैसा ही करूँगा।

मैं भी खुश हो गयी फिर विक्की ने कहा: 

मैं: बस एक बार मैं तुम्हारे हाथ पाऊँ बाँध कर बिना रुके अपनी मर्ज़ी से चुदाई करना चाहता हु और भैया मुझे ना रोके इसके लिए उनके भी हाथ बांधना चाहता हु।

मैं थोड़े बहुत नखरे के बाद तैयार हो गयी मुझे लगा की क्या करेगा बिना रुके चुदाई करेगा तो 2 बार झड़ूंगी और थोड़ा सा चुत में जलन ही तो होगी, फिर मैंने कहा:

मैं: ठीक है तू एक काम कर मुझे चुत मैं बहुत ज़्यादा देर तक लेने से दर्द होगा इसलिए पहले तू पीछे डाल लेना और बाद में आगे से कर देना, 

ये सुनते ही विक्की बहुत ही खुश हुआ और पुछा-

विक्की: भाभी आपकी गांड में डालूंगा तो गांड फटेगी नहीं? Dever Bhabi ki Chudai:

Hindi mai sasur bahu ki chudai

मैंने कहा: तू आम खाने से मतलब रख गुटली से नहीं (और झूठ बोलै) तेरे भैया ने कई बार मेरी गांड में खीरा घुसाया है फिर विक्की ने मेरे हाथ-पाऊँ तो बांधे ही पति का भी हाथ पीछे की तरफ करके बाँध दिया पति और मैं दोनों ही हस्ते हुए बात-चीत करते हुए खुद को बंधवा लिए।

फिर विक्की ने हस्ते हुए प्यार से पुछा: 

विककि: भाभी आप बुरा ना मनो तो मैं आपकी चुदाई अपनी बीवी समझ करके करना चाहता हु और बीवी से लड़ाई भी होती है सेक्स में और पिटाई भी मैंने बात को हलके में लेते हुए जवाब दिया: 

मैं: तू मुझे अपनी बीवी समझ के ही चोद और जैसे मर्ज़ी वैसे कर और वादा किया की विक्की जो भी करेगा उसका बुरा नहीं मानूंगी, फिर विक्की ने सबसे पहले पेट पे गाल रख दिया और बातें करते हुए मेरी गहरी सी नाभि की तारीफ करते हुए नाभि के अंदर ऊँगली घुसा दी उसके बाद नाभि को चूसते हुए दोनों बूब्स को दबाने लगा।

फिर वो मेरे पेट पे जगह-जगह नाक और गाल रगड़ते हुए चूस-चूस कर गोरे पेट पे दाग बनाता रहा।

अब  मुझे मज़ा भी आ रहा था और दाग होने से बुरा लगने का डर भी था फिर सोचा की जो करता है करने दो दाग तो मिट ही जायेगा 2  दिन में,

विक्की मेरे पूरे पेट को जगह-जगह से चूसता हुआ मेरी कांख को चूसने लगा शरीर पे दाग होते देख कर पति को भी बुरा लग रहा था वो रह-रह कर विक्की को रुकने को बोल रहा था।

लेकिन विक्की मेरे गोर पेट और बूब्स पे 20-25  दाग बना चूका था।

फिर विक्की खड़ा हुआ और बेल्ट लेकर आया, मैंने हस्ते हुए पुछा: 

मैं: क्या इरादा है? तो जवाब मिला: चुप कर रंडी तेरी पिटाई करूँगा अब विक्की जो की मुझसे इतना छोटा था और मेरी इज़्ज़त करता था मुझे इस तरह से गाली देगा मैंने सोचा भी नहीं था।

लेकिन गाली सुन के मज़ा भी आया मैंने भी जवाब दिया- Dever Bhabi ki Chudai:

Bhabi ki chudai ki kahani

मैं: मादरचोद जुबां क्या चलाता है अपनी ही भाभी को रंडी बना रहा है तो ठीक से बना वरना दूसरों से चुदवाऔगी तो तू भी रंडी का देवर कहलायेगा, इतना सुनते ही विक्की ने गालियां बकते हुए मेरे पेट पे 7-8 बार बेल्ट से मारा बहुत ज़्यादा ज़ोर से तो नहीं मारा था लेकिन धीरे भी नहीं था चमड़ी गोरी थी इसलिए बूब्स और पेट पे बेल्ट का दाग हो गया।

मैं चीखी भी थी मेरे साथ-साथ पति ने भी चिल्लाते हुए डाट लगायी लेकिन विक्की को कोई फरक नहीं पड़ रहा था उलटे मेरे बूब्स के दोनों निप्पल्स पकड़ के मसलता रहा और मैं दर्द से धमकियाँ देते हुए चीखी भी, विक्की ने सब कुछ अनसुना करते हुए बूब्स को बुरी तरह निचोड़ने के अंदाज़ में दबाया और मेरे होंठ कान नाक और आँखों की पुतलियों तक को चूसा, 

फिर विक्की ने दोबारा से नाभि चूसनी शुरू की और नाभि पे दांत गड़ाए उसके बाद उसने मेरी चुत की क्लीट को चूसना शुरू किया तो मुझे मज़ा आने लगा क्लीट को लगातार 5 मिनट तक चूसता रहा।

वो मेरी क्लीट फूल कर बड़ी हो गयी और मैंने उत्तेजित होते हुए कहा-

मैं: कुत्ते! अब तो चोद सिर्फ चूसता ही रहेगा क्या?

विक्की ने जवाब दिया: चुदाई की इतनी जल्दी क्या है मेरी रांड? आज तो तेरी चुत ही फाड़ डालूंगा और ऊपर लेट कर एक झटके में अपना 11 इंच का लम्बा सा घोड़े जैसा लंड घुसेड़ दिया मज़ा भी आया मुझे और हल्का सा मज़े वाला दर्द भी हुआ,  अब विक्की ने ताबड़-तोड़ चुदाई करते हुए बूब्स को चूसना जारी रखा, 7-8  मिनट में ही मेरा पानी निकल गया लेकिन विक्की रुका नहीं और लगातार चुदाई करता रहा और करता ही जा रहा था मेरे बर्दाश्त से बाहर हो रहा था।

मैंने रुकने को बोला तो मुझे उल्टा करके तुरंत ही गांड में लंड घुसेड़ना शुरू किया, गांड तो मैं पहले भी चुदवाती थी लेकिन इतना लंबा लंड कभी गांड के अंदर तो लिया नहीं था इसलिए ज़बरदस्त दर्द होने लगा ऐसा लग रहा था मानो पहली बार गांड में लिया हो फिर मैं दर्द से चीखी की लंड को बाहर निकालो लेकिन विक्की अनसुना करता हुआ गांड में झटके पे-झटके देता गया।

xxx bhabi ki chudai

उसने पूरा माल अंदर ही डाल दिया मेरी आँखों में आंसू आ गए थे और पूरा शरीर काँप सा रहा था पसीना-पसीना हो गयी थी मैं और गांड में दर्द भी हो रहा था।

विक्की ने देखा की पति का लंड खड़ा था पति के दोनों हाथ तो बंधे हुए थे तो उसने पति को सहारा देकर मेरे ऊपर लिटा के कहा-

विक्की: भैया आप भी भाभी की चुदाई करो तब तक मैं फ्रेश होता हु।

मैं पति का वज़न बर्दाश्त करती रही और वो अपने छोटे से लंड को मेरे अंदर 3-4 मिनट तक आगे-पीछे करके ढीले होते हुए बगल में लुढ़क गया।

मेरे हाथ पाऊँ बंधे हुए ही थे विक्की फ्रेश होकर तो आ गया लेकिन मेरे हाथ पाऊँ नहीं खोले उल्टा वो ये बोला-

विक्की: भाभी एक राउंड और करूँगा थोड़ी देर बाद उसके बाद ही खोलूंगा।

मैं डर गयी की इससे मेरी चुत का तो भोंसड़ा बन जायेगा लेकिन विक्की अपनी ज़िद पे था मुझे उसने सहारा देकर बिठा दिया और पानी पिलाया, उसने मुझे सॉरी भी बोला पिटाई की लिए, मेरे शरीर पे जो दाग पड़े थे उनको सहलाते हुए बाते करता रहा मीठी-मीठी, मैंने कई बार ही विक्की को कहा की मेरे हाथ खोल दे मगर उसने साफ़ मना कर दिया।

फिर उसने मेरे पेट पे ही कुछ-कुछ सामान जैसे समोसे चटनी चौमिन रख-रख के खुद भी खाये और मुझे भी खिलाये चटनी पेट पे बूब्स पे चुत पे फैला के छाती भी उसने, करीब 40 मिनट हो चुके थे।

हम तीनो ही नंगे थे और मैंने देखा तो विक्की का लंड खड़ा हो चूका था विक्की मेरे ऊपर लेट के मेरे होंठ और मेरी जीभ चूसता हुआ दोनों हाथो से बूब्स को दबाता रहा।

फिर उसने मेरी चुदाई शुरू की और लगातार बिना रुके 20-25  मिनट तक चोदता रहा, मुझे मज़ा भी बहुत आया और 2 बार पानी निकल गया मेरा,  Dever Bhabi ki Chudai:

Sexy bhabi ki chudai

अब  विक्की भी थक के पसीने से तरबतर होकर मेरे ऊपर ही पड़ा रहा 2-3 मिनट तक, फिर विक्की उठा और मुझे खोल दिया मैंने तुरंत ही विक्की को एक थप्पड़ मारा और दोनों बाहों में भींच के उसको जकड के बोली-

मैं: थप्पड़ मारा जो तूने मुझे बेल्ट से मारा उसके लिए लेकिन मज़ा आया उस दर्द में भी इसलिए तुझे भींचा है, विक्की सुन कर खुश हो गया उसने पति को भी खोल दिया,

अब पति ने भी एक राउंड पूरा किया फिर तीनो ही खुद को साफ़ करके कपडे पहन के बाहर घूमने निकल गए रात को, फिर से विक्की ने पति के सामने और पति ने विक्की के सामने मेरी चुदाई की अगले दिन विक्की तो अपने कॉलेज गया हुआ था और पति किसी काम से बाहर तभी ससुर जी, जो की आउट स्टेशन थे उन्होंने किसी अर्जेंट काम से राजेश को मुंबई बुला लिया कुछ पेपर्स के साथ, राजेश पेपर्स लेने घर आया और अकेला देख कर उसने मुझे चोदने की इच्छा जताई विक्की की सुबह की चुदाई से मन  भरा हुआ था।

फिर भी मैंने राजेश को हां कर दी और राजेश ने जल्दबाज़ी में 7-8  मिनट तक चुदाई की उसने बताया की ससुर ने बोला था की राजेश की बीवी को अकेले रहने में प्रॉब्लम है तो वो घर आ कर मेरे पास रह लेगी ये बात ससुर ने मुझे भी बता दी थी।

मेरे मन में नयी खुराफात आ गयी और सोचा क्यों न राजेश की बीवी सुमन को पति और देवर से भी चुदवा दू सुमन थी, तो 22 साल की दुबली पतली लड़की लेकिन बूब्स बड़े थे उसके।

सुमन भी दोपहर को घर आ गयी थी और सुमन को राजेश ने सब कुछ बता दिया था की मेरा और राजेश का भी आपस में सेक्स हो चूका था और राजेश ने छुप के अपनी बीवी सुमन को मेरे ससुर के साथ सेक्स होते कैसे-कैसे देखा था।

विक्की यानि की मेरा देवर पति मैं और सुमन चारों ने एक साथ ही खाना भी खाया अब सुमन भी विक्की और पति के साथ खुल गयी थी बात-चीत और हस्सी-मज़ाक भी हो रहा था।

अब विक्की बहुत शांत शर्मीला सीधा और भोला नज़र आ रहा था सुमन को, सुमन भी थोड़ी चुलबुली बनी हुई थी, हम चारों ही बाहर फिल्म देख के और खाना खा के भी आये विक्की ने मेरी और सुमन की बहुत खातिरदारी भी की चॉकलेट आइस-क्रीम चिप्स से सुमन बहुत ही खुश थी। Dever Bhabi ki Chudai:

Sasur bahu ki chudai ki story

अब ख़ास कर विक्की ने सुमन पे पैसे अछि तरह खर्च किये थे सुमन लालची भी थी और गरीब भी मैं पति और देवर (विक्की) तीनो ही एक रूम में थे और सुमन को दुसरे रूम में सोने को कहा था।

फिर सुमन ने बताया की उसको अकेली को डर लगता था इसलिए विक्की को ज़ोर देकर मनाया गया की वो सुमन के साथ सो जाये, खुद सुमन ने उसके गले में दोनों हाथ डाल के कहा: 

सुमन: एक तरफ तो भाभी भी कहते हो और इतना ख़याल भी नहीं किया मेरा? मुझे डर लग रहा है और तो तुमको परवाह नहीं है?

विक्की: नहीं भाभी ऐसी बात नहीं है आप भैया भाभी से पूछ लो मुझे नींद में हाथ पाऊँ उंगलिया घूमाने की आदत है बेकार में आप गुस्सा हो जाओगी, 

ये बोलते हुए वो अपने रूम में चला गया फिर मैंने सुमन को बताया: 

मैं: दरअसल उसको बचपन से ही आदत है टेडी बेयर के साथ सोने की और अगर नींद में किसी के पास सोया हो तो उसको भी टेडी बेयर की तरह ही पकड़ लेता है (और एक सीक्रेट भी बताया) जब नींद में रहता है तो मैंने कई बार निप्पल मुँह में सत्ता दिए तो निप्पल भी चूसे उसने सारी बातें विक्की ने सुन ली चुपके से थोड़ी देर बाद मैंने आ कर सुमन को बताया-

मैं: विक्की सो गया था और अब उठने वाला नहीं है जा कर उसके पलंग पे सो जा, फिर सुमन रूम में गयी पलंग तो सिंगल बेड ही था इसलिए सुमन ने धीरे से टेडी बेयर हटाया और विक्की से सट कर सोने लगी,  मैं छुप कर पति के साथ देखने लगी, पति रूम में ताक भी रहा था और मेरे बूब्स भी दबा भी रहा था लेकिन मेरा पूरा ध्यान रूम में ही था।

क्यूंकि विक्की को मैंने ही बताया था की सुमन की चुदाई कर देना मैं सब संभाल लूंगी, सुमन को यकीन था की विक्की को नींद आ चुकी थी वो बगल में लेटी और खुद ही विक्की का हाथ अपनी कमर पर रख लिया ताकि विक्की को ये एहसास ना हो की टेडी बेयर उसके पास नहीं था। Dever Bhabi ki Chudai:

www bhabi ki chudai com

विक्की का हाथ पेट पे थोड़ा बहुत रुक-रुक के हरकत भी कर रहा था और विक्की का मुँह सुमन के उभारों से सत्ता हुआ था।

फिर सुमन ने धीरे से अपना ब्लाउज और खिसका के एक निप्पल विक्की के होंठो से सत्ता दिया, 1 मिंट तक कुछ भी नहीं हुआ तो सुमन ने धीरे से निप्पल को विक्की के मुँह में घुसाने का दबाव बनाया विक्की ने मुँह में निप्पल ले लिया और चूसने लगा, जब-जब वो चूसना छोड़ता तब-तब सुमन निप्पल फिर से हिला देती और विक्की शुरू हो जाता, सुमन ने एक साइड का अपना मध्यम साइज का बूब पूरा ही बाहर निकाल भी लिया था।

तभी विक्की ने जागने का नाटक किया और एक तरह से सुमन को रंगे हाथ पकड़ लिया अपना बूब पिलाने के लिए, सुमन सकपका सी गयी लेकिन विक्की के चेहरे पे मुस्कराहट देख कर थोड़ी शर्मा गयी और अपने बूब्स को ढकने लगी उसको विक्की ने रोक दिया और दोनों हाथ से बूब्स दबा के चूसते हुए सुमन के मना करने के बावजूद जबरन उसका ब्लाउज खींच दिया बटन टूट गए और दोनों बूब्स बाहर आ गए, अब सुमन घबरा के छोड़ने के लिए बोलने लगी,

लेकिन विक्की ने अपना हाथ सीधे साड़ी के अंदर घुसाया तो सुमन ने खुद को छुड़ाया विक्की ने दोबारा पकड़ा और साड़ी खोलने की कोशिश की सुमन डरी हुई थी और खुद को छुड़वा के पेटीकोट में ही दौड़ कर मेरे रूम की तरफ भागी।

मैं भी जा कर तुरंत अपने बिस्तर पे टॉपलेस बैठी थी सिर्फ पंतय में और पति गोद में लेट के बूब्स चूसने लगा बदहवास सी सुमन मेरे कमरे में मेरे बिलकुल पास आ गयी वो भी टॉपलेस थी सिर्फ पेटीकोट में और बोली-

सुमन: भाभी मेरे पीछे विक्की पड़ गया है चुदाई के लिए वो मुझे टॉपलेस देख कर सकपकायी भी पति ने भी सुमन को टॉपलेस देखा तो सुमन ने दोनों हाथो से अपने बूब्स को धक लिए और उसकी आँखों में आंसू थे पीछे-पीछे देवर विक्की भी आ गया सिर्फ हाफ पंत में और मुझे बोलै-

Bhabi ki chudai video

विक्की: देखो ना भाभी सुमन ने मुझे जबरन अपना बूब चुसवाया नींद में तो बदमाशी तो इसने ही की तो मैं क्यों ना करू? मैंने पास में बैठते हुए शांत करते हुए हस्स के कहा- Dever Bhabi ki Chudai:

मैं: तुमको बूब्स ही पकड़ने है ना उसका हाथ पकड़ के? ले मेरे पकड़ के चूस ले क्या फरक पड़ेगा, विक्की ने बूब्स पकड़ लिए तभी पति ने बगल में बैठी हुई सुमन के हाथ हटाते हुए बूब्स पकड़ लिए सुमन को समझ आ गया की सब मिले हुए थे फिर सुमन ने खुद को छुड़ाने की कोशिश की तो पति ने उसको जकड के बिस्तर पे लिटा दिया और बूब्स चूसने लगा।

सुमन हाथ-पाऊँ मार रही थी बेबसी से तभी देवर विक्की ने आगे बढ़ के उसका पेटीकोट नीचे खींच दिया और पंतय उतार दी सुमन चीखने लगी छोड़ देने के लिए मेरी तरफ देखती हुई।

मैं: बहनचोद इतना चिल्लायेगी तो मार खायेगी और बता किस्से चुदवाना है पति या देवर से? एक से तो करवाना ही पड़ेगा, सुमन घबरा भी गयी थी और एक शर्त पे तैयार हुई की सिर्फ एक से ही चुदवायेगी वो भी देवर से क्यूंकि उसको लगा की देवर पति के मुक़ाबले शरीर में कमज़ोर था तो उसका हथियार भी कमज़ोर ही होगा,

पति ने सुमन को छोड़ दिया और मेरे ऊपर नंगा ही लेट गया विक्की ने सुमन को पीछे से जा कर पकड़ लिया और उसकी नाभि मैं ऊँगली घुसा के हिलाते हुए बूब्स को चूसने लगा।

Sasur bahu ki chudai batao

उसने सुमन को लिटा कर उसकी नाभि को चूसा फिर क्लीट को सुमन ने जैसे ही देखा की विक्की नंगा हो गया था तो वो उसका लम्बा सा लंड लेके घबरा गयी और विक्की की बजाय मेरे पति से चुदवाने को तैयार हुई जबकि पति मेरी सवारी पे लगा हुआ था।Dever Bhabi ki Chudai:

मैंने कहा: ठीक है चुदवाना मत लेकिन विक्की को मज़े तो लेने दो, सुमन के पास दूसरा कोई उपाय भी नहीं था डरी और सेहमी हुई सुमन को विक्की जगह-जगह से चूसे जा रहा था और चुदाई का बोल कर अपना लंड भी चुसवा दिया, विक्की उत्तेजित हो चूका था पूरी तरह से और वो सुमन को बिस्तर पे लिटा के सवार हो गया दोनों में झड़प होने लगी और सुमन बचने की गुहार लगाने लगी।

मेरा और हस्बैंड का तो चुदाई कार्यक्रम पूरा हो चूका था हम दोनों देख के मज़े लेने लगे, विक्की को उकसाया भी विक्की ने 3-4  किस्स की  उसको और बूब्स पे दांत गदा दिए और सुमन सरेंडर हो गयी।

फिर विक्की ने एक ही झटके में 11 इंच के लंड को घुसेड़ दिया सुमन की आँख में दर्द से पानी आ गया और उसकी चीख निकली, विक्की ने ताबड़-तोड़ चुदाई जारी रखी और सुमन की चीखों से कमरा गूंजता रहा सुमन का पहला पानी निकलते ही मैंने ही विक्की को रोक दिया और पति सवार हो गया उसपे, पति की सवारी से सुमन को कुछ भी फरक नहीं पड़ रहा था और सुमन के बगल में ही मुझे लिटा कर विक्की मेरी चुदाई करने लगा।

मेरी भी ख़ुशी से आवाज़ें निकलने लगी क्यूंकि विक्की के लम्बे लंड से मज़ा बहुत आ रहा था दोनों ही भाइयों ने चुदाई कार्यक्रम पूरा कर लिया,  Dever Bhabi ki Chudai:

फिर सुमन ने कहा: दर्द तो बहुत हुआ लेकिन मज़ा भी आया ऐसी चुदाई आज तक नहीं हुई थी मेरी विक्की ने सुमन को दर्द के लिए सॉरी बोल और दोनों ने एक-दुसरे को किश किया फिर सुमन और विक्की दोनों दुसरे रूम में सोने चले गए मुझे नींद नहीं आ रही थी इसलिए मैं टीवी देखने लगी थोड़ी देर बाद कानो में कुछ आवाज़ आयी तो मैंने चुप-चाप जा कर देखा विक्की के रूम में विक्की सुमन की नाभि चूस रहा था और सुमन का पेटीकोट खोलने के लिए लड़ाई हो रही थी सुमन फिर से चुदवाने को तैयार नहीं थी।

Sasur bahu ki chudai wali kahani

इसलिए विक्की ने कहा-

विक्की: चुदवाना नहीं है तो वो बूब्स क्लीट नाभि को चूसेगा, इसके लिए सुमन ने हां कर दी विक्की ने सुमन के होंठ जीभ पेट नाभि गर्दन बूब्स चूसते हुए क्लीट को चूसा और अचानक ही सुमन को शिकारी की भाँती जकड लिया।

फिर भी सुमन अंदर नहीं डालने दे रही थी विक्की ने बेड पे लेटी हुई सुमन को लगातार किश किया और उसकी चुतट पर कपड़ों के ऊपर से ज़ोर-ज़ोर से लंड रगड़ने लगा.

फिर उसने सुमन को उल्टा किया और लंड गांड में घुसा दिया सुमन दर्द से चीख रही थी उसकी गांड में 4-5 मिनट तक चुदाई करने के बाद उसने चुतट में लंड घुसेड़ दिया और बिना रुके चुदाई करता ही रहा.

मैं भी रूम में चली गयी और पास बैठ कर सुमन की चुदाई देखने लगी इतने में पति भी आ गया विक्की की चुदाई पूरी होने पर सुमन की हिम्मत जवाब दे गयी थी.

पति ने कहा: विक्की तो इसको फिर से चोद डालेगा इसलिए विक्की को मैं अपने साथ रूम में ले जाता हु, पति खुद ही सुमन के पास सोने लगा सुमन भी तैयार थी पति के साथ ही सोने को क्यूंकि सुमन को पति से डर नहीं था क्यूंकि पति का लंड तो बहुत ही छोटा था।

पति और सुमन दोनों एक साथ सोये थे फिर पति ने प्यार से क्रीम लगायी सुमन को और एक राउंड पूरा करके साथ में सो गया और विक्की मेरे पास सो गया सुबह-सुबह 6 बजे विक्की को मैंने ही उकसाया और अपनी चुदाई करवाई 8 बजे तक चारों ही उठ चुके थे और नाश्ता भी किया था।

अब सुमन की चुतट में दर्द के कारण उसकी चाल ही बदली हुई थी विक्की उसको देख-देख कर मुस्कुरा रहा था सुमन के पेट पे काटने के दाग भी दिख रहे  थे तभी मौका देख कर विक्की ने मेरे और पति के सामने ही सुमन के बूब्स बाहर निकाल के चूसने शुरू किये और कहा-

विक्की: इसकी चुदाई अभी नहीं करूँगा लेकिन बूब्स बहुत ही मुलायम है इनको तो चूसूंगा ही अब सुमन चुप-चाप बैठी रही विक्की बूब्स और नाभि चूसता रहा।

फिर दोनों को मैंने ही अलग किया और विक्की को कहा-

मैं: इसकी जान लेगा क्या अब रात से पहले ये तुझको नहीं मिलेगी चाहे तो तू मेरी मार लेना,विक्की को भी काम से बाहर जाना था। Dever Bhabi ki Chudai:

तो वो चला गया पति डर भी रहा था की कही मुझे बुरा ना लगे और सुमन के मज़े भी लेना चाहता था मैंने पति को अकेले में बता दिया की जो करना है करे मैं चुप रहूंगी।

पति मेरे सामने ही सुमन को जो की दुबली-पतली गुड़िया सी थी और पति हत्ता-कट्टा सा था उसको नंगा करके अपनी गोद में लेकर बैठ कर टीवी पे फिल्म देखने लगा वो उसके बूब्स से और चुतट की झिल्लियों से खेलता रहा 2 घंटे तक लास्ट में मैंने ही पति को डाट के अलग किया

बाकी कामुकता कहानी अगले भाग में..

हमारी वैबसाइट से चुदाई की मस्त कहानिया पढ़ने के लिए यहा क्लिक करे-> www.xstory.in

Read More Sex Stories…

3 Replies to “पति था बेकार तो ससुर के बड़े लंड से चुदवा बैठी भाग 6”

  1. Pingback: मेरा बेटा मेरा दीवाना Maa bete ki chudai

  2. Pingback: होटल में मजबूर नौकरानी को चोदा Nokrani ki Chudai

  3. Pingback: नोकर को डरा के मालकिन ने कारवाई चुदाई Malkin ne naukar se chudai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *