By | May 12, 2023

Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai:– हैलो दोस्तो, ये पिछली कहानी का भाग 7 है और मुझे उम्मीद है की आपको ये कहानी बहुत पसंद आ रही होगी, अगर आपने अभी इस कहानी के पिछले भाग नहीं पढे तो प्लीज आप यहा क्लिक करके पढ़ सकते है। ये भी पढे-> कामवाली ने कारवाई माँ की चुदाई 6

Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai

मैं मम्मी की बगल मे लेट गया और उनकी एक चुचि को चूसने लगा और दूसरी चुचि को दबाने लगा मम्मी भी मेरे बालो में हाथ फेर रही थी और मैं उनकी चुचि चूस रहा था.

मैं – मम्मी मैं आपसे बहुत प्यार करता हु

मम्मी – मैं भी तुझसे बहुत प्यार करती हु बेटा.

मैं – मम्मी कल रात को तो आप मुझे मना कर रही थी मगर आज सुबह आपने मुझे रोका भी नहीं और खुद को प्यार करने दिया क्या अब आप मेरे साथ हो?

मम्मी – तुझे रोकने का फायदा क्या है तू फिर भी तो वही करता है जो तुझे करना होता है और कल रात अपने पापा के होते हुए भी तूने मेरे साथ ये सब किया था.

मैं – मम्मी मेरा तो मन करता है की पूरी रात आपके साथ राहु और पूरी रात आपको बाहो में भर के प्यार करू पता नहीं पापा आपसे प्यार क्यों नहीं करते है?

मम्मी – बेटा ये सवाल तो मेरी उम्र की हर औरत का होता है, क्युकी एक टाइम के बाद सारे पति ऐसे ही हो जाते है और अपनी बीवी पर ध्यान ही नहीं देते है इसीलिए औरतो का चक्कर बहार शुरू हो जाता है.

मैं – वैसे मम्मी पापा ने आपकी चुदाई कब की थी?

मम्मी – बेटा यही कुछ 15 से 20 दिन पहले हम दोनों ने किया था.

मैं – तो मम्मी क्या पापा आपको खुस कर पाए थे या सिर्फ अपना काम निकाल के सो गए.

मम्मी – बस बेटा पूछ मत वह सिर्फ अपना काम निकलते है और सो जाते है और मैं उनसे ये बात कह भी नहीं सकती हु

मैं – मम्मी अब आपको कभी ये सब सहना नहीं पड़ेगा क्युकी मैं आपको हमेशा खुस रखूँगा वैसे मम्मी आज सुबह भी मैक्सी में कैसे थी आप तो सुबह कपडे बदल लेती हो.

मम्मी – बेटा कल रात जब मैं सोई तो मुझे इतनी गहरी नींद आयी की मैं सुबह उठ ही नहीं पायी.

मैं – मम्मी कल रात हमने मेहनत जो की थी इसीलिए आप थक गयी थी और इसीलिए आपको इतनी अच्छी नींद आयी मम्मी मेरी बात सुनके हसने लगी और फिर मैं मम्मी की चूत को सहलाने लगा और उनकी चूत भी गीली होने लगी.

मम्मी – बेटा अब जल्दी से कपडे पहन ले कामवाली आने ही वाली होगी.

मैं – मगर मम्मी आपकी चूत फिर से गीली हो रही है क्या आपका भी मन फिर से चुदाई करने का कर रहा है?

मम्मी – बेटा ये तो तेरे छूने भर से ही ऐसे हो जाती है और अब मैं तुझे कहा रोक रही हु बस अभी काम वाली आने वाली है इसीलिए थोड़ा संभल के Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai

Meri Mummy ki chudai ki kahani

मैं – मम्मी बस थोड़ी देर मेरा बहुत मन कर रहा है.

मम्मी – बेटा तेरा थोड़ी देर मैं जानती हु जब तू एक बार शुरू होता है तो रुकता नहीं है और वैसे भी तू मेरी कहा सुनने वाला है फिर मैंने मम्मी की टाँगे फैला दी और उनकी चूत और गांड को चाटने लगा मम्मी को भी मज़ा आ रहा था और मैं उनकी गांड को ज्यादा चाट रहा था तभी मम्मी बोल पड़ी.

मम्मी – बेटा तू पीछे क्यों चाटता है? वह जगह गन्दी होती है ऐसा मत किया कर.

मैं – मम्मी मुझे आपकी चूत और गांड चाटना बहुत अच्छा लगता है अगर मेरा बस चले तो मैं पुरे दिन इसे चाटता रहु, मेरी बात सुनके मम्मी हसने लगी और मैं कुछ देर तक मम्मी की चूत और गांड को चाटता रहा फिर मैं ऊपर से उठ गया और मम्मी अलमारी से निकाल के ब्रा पेंटी पहनने लगी मगर मैंने उन्हें रोक दिया।

मैं – मम्मी आप ब्रा पहन लो मगर पेंटी मत पहना करो वह मुझे अच्छी नहीं लगती है, मम्मी मेरी तरफ हसके देखने लगी और उन्होंने अपनी पेंटी अंदर रख दी फिर मैंने खुद मम्मी को काली ब्रा पहना दी और उसके ऊपर मम्मी ने मैक्सी पहन ली फिर कुछ देर बाद आंटी भी आ गयी और आंटी मम्मी को मैक्सी में देखकर समझ गयी की उनके साथ क्या हुआ होगा और वैसे भी आज मम्मी के चेरे की चमक कुछ और ही थी आंटी अपना काम करने लगी और मैं अपने कमरे में आ गया आज मम्मी मेरे साथ ही थी इसीलिए आंटी के साथ कुछ कर नहीं पाया।

फिर आंटी ने अपना काम कर लिया और मम्मी ने मेरे लिए और अपने लिए चाय बनायीं और मैं चाय लेके छत पर चला गया मम्मी और आंटी भी चाय पीने लगे और कुछ देर बाद मैं नीचे आ गया और मम्मी के कमरे के पास जाके उनकी बात सुनने लगा।

आंटी – भाभी आज आप अभी तक मैक्सी में हो लगता है विशाल बेटा ने आपको बहुत खुश किया है और आपका ये खिला हुआ चेहरा बता रहा है की आपने भी उसे अब अपना लिया है ।

मम्मी – हा कोमल मेरे पास और कोई चारा भी नहीं था मेरा बेटा मेरे लिए पागल है उसे सिर्फ मैं ही मैं दिखती हु कल रात को तो उसने अपने पापा के होते भी…मम्मी अपनी बात पूरी करते करते रुक गयी और आंटी समझ गयी की मम्मी क्या बोलने वाली थी

आंटी – मतलब भाभी कल भाई साहब के होते हुए भी विशाल बेटा ने आपकी चुदाई कर दी मम्मी ने आंटी की बात का जवाब सर हिला के दे दिया ।

आंटी – वैसे भाभी आपके मुह की चमक बता रही है की आपको भी बहुत मज़ा आया है Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai

Sagi mummy ki chudai ki story

विशाल बेटे ने आपकी सारी गर्मी निकाल दी है।

मम्मी – हा कोमल रात में भी मेरे बेटे ने मुझे अच्छे से निचोड़ दिया इसीलिए मेरी आँख सुबह देर से ही खुली और अभी तेरे आने से पहले भी उसने मुझे खूब अच्छे से मसला है क्या तेरा बेटा भी ऐसे ही करता है?

आंटी – अरे भाभी पूछो मत आप दोनों कम से कम अलग कमरे में तो थे मेरा बेटा तो मेरे पति के सामने ही मेरी चूत और गांड को चाटने लगता है मैं उसे रोकती भी हु तो वह नहीं रुकता है मुझसे पूछो जब वह मेरी चूत और गांड को चाटता है तो कैसे मैं अपनी आवाज को रोकती हु और फिर जब वह अपना लंड मेरे अंदर डालता है तो तब तक चुदाई करता रहता है जब तक मेरा पानी न निकल जाये

मम्मी – मेरा बेटा भी ऐसे ही करता है कल रात भी उसने मेरा 2 बार पानी निकाल दिया था और मेरी तो हालत ख़राब कर दी थी मुझे अपने पति का डर भी लग रहा था की कही वह न आ जाये मगर मेरा बेटा फिर भी लगा हुआ था जब मैं आपने कमरे में गयी तो मुझे लगा मेरे पति पूछेंगे की मैं क्या कर रही थी मगर उन्होंने तो मुझपे धयान ही नहीं दिया।

फिर वह सो गए मगर मैं काफी देर अपने बेटे के बारे में सोचती रही।

आंटी – भाभी अब तो आप भी अपने बेटे के साथ खुल के मज़ा करो भाई साहब साथ हो या न हो मगर अब आपका बेटा आपकी सारी गर्मी निकाल देगा वैसे भाभी उस दिन मैंने विशाल बेटे का लंड देखा था और मैं समझ सकती हु की आपको कितना मज़ा आया होगा ऐसा मर्द किस्मत वाली औरतो को मिलता है मम्मी आंटी की बात सुनके मुस्कुराने लगी और फिर आंटी अपना काम करके चली गयी।

और आंटी के जाते ही मैं फिर मम्मी के पास चला गया और उनके होंठों को चूसने लगा मम्मी भी मेरा साथ दे रही थी और मैं उनकी गांड को दबा रहा था फिर मम्मी बोली

मम्मी – बेटा जा नाहा ले फिर नास्ता करते है।

मैं – वैसे मम्मी आज तो आप भी नहीं नहायी हो तो क्यों न हम दोनों साथ साथ नहाये मम्मी मुझे देखने लगी और एक कामुक हसी उनके मुँह पर आ गयी फिर मैंने मम्मी मैक्सी और ब्रा निकाल के वही फेक दी और मम्मी को लेके बाथरूम में आ गया मम्मी ने शावर ऑन कर दिया।

और मैं मम्मी के साथ नहाने लगा पानी की धार हम दोनों पर पढ़ रही थी और मैं और मम्मी एक दूसरे के होंठों को चूसने में लगे हुए थे मम्मी का हाथ मेरे लंड पर चला गया और वह मेरा लंड सेहला रही थी।

फिर मैंने ने मम्मी के बदन पर साबुन लगा दिया और वह भी मुझे साबुन लगाने लगी मेरा लंड मम्मी की गांड पर फिसल रहा था और फिर हम दोनों पानी के नीचे खड़े हो गए और जब हमारा साबुन धूल गया तो मैंने मम्मी को झुका दिया और अपना लंड उनकी चूत में डाल दिया फिर मैं मम्मी की कमर पकड़ के धक्के लगाने लगा और में पानी थप थप की आवाज पैदा होने लगी मैं दना दन धक्के लगा रहा था Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai

और मम्मी अह्ह्ह अह्ह्ह कर रही थी कुछ देर धक्के लगाने के बाद मैं नीचे बैठकर मम्मी की चूत चाटने लगा और मम्मी ने भी अपने एक पैर मेरे पर रख दिया जिससे मम्मी की चूत खुल गयी और मैं अंदर जीभ डाल डाल के उनकी चूत चाटने लगा कुछ देर चूत चाटने के बाद मैं खड़ा हो गया और मम्मी की एक टांग को उठके उन्हें झुका दिया और फिर से उनकी चुदाई करने लगा मम्मी दीवार का सहारा लेके झुकी हुई थी और मैं तेज तेज धक्के लगाए जा रहा था

Desi mummy ki chudai ki kahani

मेरे हर धक्के में मम्मी की चूचिया उछल रही थी और फिर मैं उनकी चूचियों को मसलते हुए उनकी चुदाई करने लगा मम्मी अपनी टांग उठाये उठाये थक गयी थी फिर मैं वही ज़मीन पर लेट गया और मम्मी मेरा लंड अपनी चूत में डाल के बैठ गयी फिर मैं मम्मी की कमर को पकड़ के चलने लगा और मम्मी भी मेरे लंड की सवारी का मज़ा लेने लगी मम्मी की चूचिया उछल रही थी जो देखने में बहुत अच्छी लग रही थी

और मैं भी उनकी चूचिया और निप्पल को खींच ने लगा फिर मम्मी अपनी कमर तेज तेज चलाने लगी और कुछ देर बाद उनका पानी निकल गया और वह मेरे ऊपर लेट गयी मेरा लंड अभी भी अंदर ही था और मम्मी मेरे ऊपर लेटी हुई थी फिर मम्मी मेरे ऊपर से उठ गयी और मेरा लंड अभी भी खड़ा हुआ था फिर मैंने शावर बंद कर दिया और मम्मी को लेके बहार आ गया हम दोनों अभी भी नंगे थे फिर मैंने मम्मी को सोफे पर घोड़ी बना दिया और उनकी गांड के छेद पर अपना थूक टपका दिया और फिर हलके हलके अपनी ऊँगली मम्मी की गांड में डाल दी

मम्मी वैसे ही झुकी हुई थी और मैं उनकी गांड को ऊँगली से चोद रहा था फिर कुछ देर बाद मैंने अपना लंड मम्मी की गांड के छेद पर लगा दिया और उसे हलके हलके अंदर करने लगा मम्मी ने मुझे रोका नहीं और मैंने हलके हलके अपना सूपड़ा मम्मी की गांड में डाल दिया और जैसे ही मेरा सूपड़ा मम्मी की गांड में घुसा तब उनके मुँह से अह्ह्ह की आवाज निकली मैंने अपना लंड बहार निकाल लिया और फिर से अपना लंड और मम्मी की गांड पर थूक लगा दिया और फिर से अपना लंड मम्मी की गांड में डाल Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai

दिया और इस बार मम्मी को दर्द नहीं हुआ और मैंने हलके हलके आपने आधा लंड मम्मी की गांड में उतार दिया और फिर उनकी गांड की चुदाई करने लगा मम्मी की गांड एक दम कसी हुई थी मगर मम्मी को देखने से लग रहा था की वह पहले भी अपनी गांड मरवा चुकी है मैं धक्के लगा रहा था मगर अपना पूरा लंड अंदर नहीं दाल रहा था और जैसे ही मैंने एक बार पूरा लंड डालने की कोशिश की तो मम्मी के मुँह से जोर से अह्ह्ह निकली मम्मी – अहह रुक जा रुक जा बेटा मुझे दर्द हो रहा है फिर मैंने आपने लंड थोड़ा बहार निकाल लिया और फिर से उसे अंदर डालने लगा कुछ देर मम्मी को थोड़ा दर्द हुआ

Mummy ki chudai ki kahani

मगर फिर उन्हें भी ठीक लगने लगा और मैं धक्के लगाने लगा मैं बार बार अपना लंड बहार निकल के देख रहा था और मम्मी की गांड का छेद एक दम खुला हुआ दिख रहा था मगर मेरा लंड भी गन्दा हो गया था।

मगर इस समय तो मुझे मम्मी की गांड की चुदाई दिख रही थी मैं धक्के लगाए जा रहा था और मम्मी को भी मज़ा आ रहा था फिर कुछ देर धक्के लगाने के बाद मैंने अपना सारा पानी मम्मी की गांड मैं भर दिया और फिर अपना लंड भी साफ़ करके वही सोफे पर बैठ गया

मैं – मम्मी क्या आप पापा से पहले भी पीछे करवा चुकी हो?

मम्मी – है बेटा तेरे पापा भी पीछे करते है और उन्हें आगे से ज्यादा पीछे मज़ा आता है।

मैं – मम्मी पहली बार में तो आपको बहुत दर्द हुआ होगा।

मम्मी – हा बेटा पूछ मत मैंने कैसे तेरे पापा को झेला था मगर फिर वह करते रहे और मुझे भी इसकी आदत हो गयी मगर आज जब तूने अपना पूरा अंदर डाला था तो एक पल के लिए वही दर्द हुआ जो पहली बार में हुआ था

में – मम्मी क्या मेरा लंड पापा से ज्यादा बड़ा है?

मम्मी – हा बेटा तेरा लंड तेरे पापा से बड़ा है इसीलिए जब तू इसे पूरा अंदर डालता है तो ये मेरी बच्चे दानी पर लगता है

मैं – मम्मी अगर आपको इससे दर्द होता है तो मैं आगे से ऐसा नहीं करूँगा ।

मम्मी – अरे नहीं बेटा दर्द नहीं होता है बल्कि वह अहसास तो मुझे और भी अच्छा लगता है Ghar Me Meri Sagi Maa ki chudai

Badi mummy ki chudai ki story

मम्मी और में पुरे दिन ऐसे ही एक दूसरे के साथ चूमा चाटी करते रहे और मैंने दोपहर में भी उन्हें फिर से चोदा फिर रात में भी पापा के रहते हुए.

मम्मी मुझे गेस्ट रूम के पास ले गयी और वहा भी मम्मी ने मुझसे 2 बार अपनी चूत और गांड मरवाई अब मम्मी का जब भी मन होता वह मेरे पास आ जाती और मैं उनकी गर्मी अच्छे से शांत कर देता आंटी और मम्मी एक दूसरे को अपनी चुदाई के बारे में भी बताती की कैसे उनके बेटे उनकी गर्मी शांत करते है

बीच बीच में मैं आंटी को भी चोद देता था जब मम्मी बहार जाती थी तो दोस्तों कैसे लगी आपको मेरी कहानी मुझे आपके कमेंट और मेल्स का इंतज़ार रहेगा ऐसे ही मेरा हौसला बढ़ाते रहिये और मैं आपके लिए ऐसे ही नयी नयी कहानी लाता रहुगा.

हमारी वैबसाइट से चुदाई की मस्त कहानिया पढ़ने के लिए यहा क्लिक करे-> www.xstory.in

Read More Sex Stories…

3 Replies to “कामवाली ने कारवाई माँ की चुदाई 7”

  1. Pingback: पुजा ने देखि माँ बेटे की चुदाई Maa Bete Ki Chudaii

  2. Pingback: चुदाई की आग मे चाचा से चुद गयी मम्मी Mummy ki chudaii

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *