By | December 14, 2022

Purani Chudai ki Kahani– हैलो दोस्तो, तो आपने पढ़ा के मेथियस जंग पर चला गया था. राजकुमारी मिश्रा को आज़ादी मिल गयी थी मुझसे सेक्स करने की. और दूसरी तरफ मेथियस की माँ मिला मुझे चिढ़ा रही थी बहुत सारे लंड एक साथ लेकर. अब आगे.

ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहा 15 दिन तक. फिर मिश्रा के पीरियड्स मिस हो गए और फिर उसकी थोड़ी तबीयत ख़राब हुई तो मैं वैद जी को बुला लायी. उन्होंने उसको देखकर बोले के वह माँ बनने वाली है.

मेथियस को पता था के वह नहीं आने वाला है अभी कुछ महीने तक.

तो उसने मिश्रा की चुत में अपना बीज गिरा दिया था.
उसने मिश्रा को जानबूझ कर सुबह तक चोदा था और पता नहीं उसकी चुत में कितनी बार झड़ा था.

Purani Chudai ki Kahani

अब जब मिश्रा प्रेग्नेंट हो गयी तो मैंने उसको आराम करने के लिए ही बोला. और

Purani Rani ki paheli Chudai kahani

उससे अपनी चुत चटवाने बंद कर दिया. अब बस मैं ही उसकी चुत चाट लेती थी और

वह सिर्फ मेरी चुत में ऊँगली करती थी.
2 महीने गुज़र गए थे मेथियस को गए हुए. मिला रोज़ नए मर्दो को बुलाती थी अपनी चुत की खुजली मिटने के लिए.

और मिश्रा मुझसे अपनी चुत चटवाती रहती थी. मैं अब फ़्रस्ट्राटे होने लगी थी लंड लेने के लिए.
उधर दूसरी तरफ ये हुआ के मेथियस की आर्मी में टाइटस को भी बुलाया हुआ था. और

आर्मी के साथ कुछ रंडिया भी जाती थी जिससे मर्दो का दिल बेहला रहे. वह कही और ना जाए लड़किया चोदने के लिए.

तो एला और रिस्का भी जंग के मैदान में सिपाहीओं के लंड की सवारी कर रही थी.

उन रंडियो से ही खाना बनवाया जाता था और उनको ही चोदने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता था.

एला की तो लोग गांड के दीवाने हो गए थे.क्युकी एला ने छोटी उम्र से ही अपनी गांड मारवणी स्टार्ट करदी थी.
जिससे उसकी गांड एकदम बहार निकल गयी थी. और

क्युकी उनको एकदम नंगी ही रहना पड़ता था. तो कोई भी सिपाही ऐसा नहीं होता था Purani Chudai ki Kahan

रानी की सुहगरात मे चुदाई

जिसका लंड खड़ा ना हो उसकी गांड देखकर.एला खाना बना रही थी

तभी पीछे से टाइटस आया और उसने उसको पीछे से पकड़ लिया. एला को इन सब की आदत थी. तो वह बोली.
एला: जल्दी चोद और निकाल, मेरे को खाना भी बनाना है.

टाइटस: अरे मैं हु टाइटस यार.
एला: हाँ तो टाइटस बेबी जल्दी से गांड मारो मेरी जो तुम्हे बहुत पसंद है और निकलो.

मेरे पास बहुत कम है.
टाइटस: अरे यार मुझे नहीं मारनी अभी कुछ भी. मुझे लग रहा है

मैं तो इस जंग में मारा जाऊंगा. काश मैं एक बार अपनी जानेमन नेमेरिअ से मिल सकता.
एला: उसको तो राजकुमारी अपने साथ ले गयी थी स्पार्टा अपने ससुराल.

Purani naukrani ki chudai kahani

अब वह किसी से भी नई मिल पाएगी. याद तो मुझे भी आती है यार उसकी पर क्या करें.
टाइटस: हाँ यार अब कर भी क्या सकते है.बहार से मेथियस ने गुज़रते हुए इन दोनों की ये बात सुन ली.

वह अंदर आया और उसने टाइटस को देखा. फिर एला को देखा और

फिर अपने कपड़ो में से अपना लंड बहार निकाल लिया और एला की चुत में डाल दिया.

और उसको वही खाना बनाते हुए टाइटस के सामने चोदने लगा. एला ने तो बड़े बड़े लंड लिए हुए थे

तो उसको इतना एहसास नहीं हो रहा था. फिर मेथियस तेज़ तेज़ झटके मारने लगा जिससे एला ने सारे काम छोड़ दिए और चुदाई पर फोकस करने लगी.
फिर मेथियस ने अपना लंड बहार निकाल लिया और एला को घुटनो पर बैठा लिया और

उससे अपना लंड चुसवाने लगा. टाइटस तभी बहार निकलने लगा. तो मेथियस बोलै.
मेथियस: अरे कहा जा रहे हो? कहा से हो ये बताओ? क्या नाम है तुम्हारा? Purani Chudai ki Kahan.

बैठो ज़रा बात करो हमसे मैं मालिक अस्तपार से हु.
मेरा नाम टाइटस है.

मेथियस: अच्छा तुम्ही थे कल जिसने वह गेट तोडा था?टाइटस: जी मालिक.

hindi chudai ki kahani

मेथियस: मेरे साथ चलोगे स्पार्टा.
टाइटस की आखों के एकदम चमक आ गयी स्पार्टा का नाम सुनकर. और उसने बिना कुछ सोचे समझे हाँ बोल दिया. और

फिर मेथियस वही उसके ही सामने नंगा हो गया. और एक कुर्सी पैर बैठ गया और

एला को अपने ऊपर बैठा लिया.एला ने उसका लंड अपनी चुत में भर लिया और ऊपर निचे उस पर उछलने लगी. तभी फिर मेथियस बोले .


मेथियस: ये क्या भोसड़ा बना हुआ है. एकदम खुली चुत है मज़ा भी नई आ रहा है चोदने में. कब्ज़ा करने के बाद वर्जिन लड़किया चोदुगा. उनको चोदने का मज़ा ही अलग है. एक दम टाइट चुत रहती है.

क्यों टाइटस तूने चोदी है कोई वर्जिन चुत?
टाइटस: नहीं मालिक मैं कहा कोई वर्जिन चुत चोद सकता हु.
मेथियस: इसपर कब्ज़ा करवा दे तेरी एक वर्जिन चुत पक्की.

एला: मालिक मज़ा नहीं आरहा तो गांड मार्लो मेरी. वह थोड़ी टाइट है.
मेथियस: ठीक है ले गांड में मेरा लंड.

एला ने उठकर चुत से अपना लंड बहार निकालकर गांड में डाल लिया. और फिर उस पर उछल उछल कर गांड चुदाई करवाने लगी. लंड पर तिघटनेस आने की वजह से मेथियस को जोश चढ़ गया. Purani Chudai ki Kahan.

रानी ने लिया चुदाई का मज़ा

वह खड़ा हो गया.और खड़े खड़े ही एला की गांड मारने लगा. एला झड़ने वाली होने लगी. उसकी खड़ी खड़ी ही टाँगे कांपने लगी. और वह झड़ गयी.
मेथियस ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और वह भी उसकी गांड में ही झड़ गया.

फिर मेथियस ने कपडे पहने और वह वापस चला गया.

टाइटस को भी मेथियस ने जोश चढ़ा दिया तो फिर वह भी फिर एला को चोदने लगा. उसने एला की चुत मारनी स्टार्ट कर दी. और फिर चुत के अंदर ही झड़ गया.

जंग 2 महीने तक और चली और फिर आखिर कार मेथियस ने जीत हासिल कर ली और उस शहर पर कब्ज़ा कर लिया. टाइटस घायल ज़रूर हुआ लेकिन उसकी जान बच गयी.

फिर मेथियस के कहे अनुसार वर्जिन चुत भी मिली.

जंग का यही उसूल है जो हारा उसकी भूल है. अब जब वह हार गए थे तो उनकी औरते अब सब रंडी बनने वाली थी. उनकी कम उम्र लड़कियों की शादी होने वाली होती थी

लेकिन वह तो अब लोगो के बिस्तर गरम करने के लिए काम आने वाली थी.
मेथियस ने एक रात में ही 5 सील तोड़ी. और एक लड़की को तो चोदते चोदते ही मार दिया.

Purani lambi chudai ki kahani

एक तो इतना बड़ा लंड और ऊपर से दर्दनाक चुदाई. वह तो रहम भी नई करता था. उसके साथ के लोगो को भी लड़कियों पर तरस आने लगा था लेकिन वह किसी की नहीं सुनता था.

उसको खत भी मिल गया था के वह बाप बनने वाला है तो अब तो और भी ज़्यादा ख़ुशी में चुदाई कर रहा था. और इधर राजकुमारी मिश्रा का अब थोड़ा पेट बहार निकलने लगा था.

तो वह अब ज़्यादातर आराम ही करती रहती थी.मुझसे कभी कभी जब ज़्यादा मैं होता था Purani Chudai ki Kahan.

risto me chudai ki kahani

तो अपनी चुत में ऊँगली करवा लेती थी और चटवा लेती थी लेकिन अब ज़्यादातर बस वह किश ही करती रहती थी. सर्दी का मौसम भी आ गया था. तो वह अपने होने वाले बच्चे के लिए स्वेटर बुनने लगी.

उनको भले ही मेथियस से बहुत ज़्यादा नफरत हो लेकिन वह अपने होने वाले बच्चे को हर्र मुसीबत से बचाती थी.

उन्होंने शराब पीना बिलकुल बंद कर दिया था. उन्होंने कुछ और ऐसी वैसी चीज़े खाना बंद कर दिया था.

फिर जंग जीत कर मेथियस भी वापस आ गया. और

जब मैंने देखा के टाइटस भी उसके साथ आ रहा है तो मेरी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा.

train me ki chudai

मैं ख़ुशी से नाचने लगी. मिश्रा मुझे देखकर थोड़ी हड़बड़ा गयी और बोली.
मिश्रा: तुझे बड़ी ख़ुशी हो रही है मेथियस के आने की.

मैं: नहीं नहीं राजकुमारी मैं तो दिखावा कर रही हु सबके सामने.
मिश्रा: हाँ हाँ चल ठीक है हो गया दिखावा.मैं फिर नार्मल हो गयी.

फिर मेथियस आया उसने आते ही पहले मिश्रा के पेट को चूमा.

फिर उसको एक लम्बी किश दी और फिर अंदर चला गया. Purani Chudai ki Kahan

मैं उन दोनों को कमरे में पहुंचकर टाइटस से मिलने आ गयी.आते ही उससे चिपट गयी और रोने लगी. टाइटस ने मुझे अपनी बाहों में भर लिया और मेरी पीठ सहलाने लगा.

मैं जब चुप हुई तो मुझे किश करने लगा. फिर वह थका हुआ था

तो वह लेट गया और मैं भी वापस मिश्रा के रूम में आ गयी.


आगे की कहानी बहुत इंटरेस्टिंग होने वाली है तो बिलकुल मिस मत करना. मिलते है अगले भाग-12 में तब तक के लिए. धन्यवाद!

Read More Sex Stories….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *