By | March 13, 2023

Teacher Student Ki Chudai: हैलो दोस्तो, कैसे हो आप सब, मैं आपकी दोस्त वंदना, जिसको मेरे स्कूल टाइम पे मेरे ही मास्टर ने मुझे चोद दिया था , और लंड वाले मर्दों के मोटे लंड पर किस करते हुए और सभी खूबसूरत जवान चूत वाली रानियों की चूत को चाटते हुए सभी का मैं स्वागत करती हूँ।

अपनी कहानी सेक्स कहानियां डॉट कॉम के माध्यम से आप सभी मित्रो तक भेज रही हूँ। इसे पढकर आप लोगो को मजा जरुर आएगा, ये गांरटी से कहूंगी।

ये भी पढे-> भाभी बनी मोटे लंड के लिए मेरी बहन 2

Teacher Student Ki Chudai

मेरा नाम वंदना शर्मा है। मैं भोपाल की रहने वाली हूँ। मैं अभी 23 साल की कच्ची कली हूँ पर मुझे ये नही पता था की इस 25 की उम्र मे मैं 25 से जादा भी जादा बार मैं इतनी कम उम्र में चुद जाउंगी। मैं कैसे चुदी आपनो पूरी स्टोरी डीटेल में समझा रही हूँ। मेरे घर पर सब लोग पढाई पर बहुत जादा ध्यान देते थे। इसकी वजह थी की हम लोग काफी गरीब थे। घर में न तो कोई खेती पाती थी और न कोई अपना बिजनेस। मेरे पापा के 6 बच्चे थे।

मैं सबसे बड़ी थी। इस वजह से घर में काफी खर्चा था। मेरे पापा एक बैंक में सरकारी बाबू थे। जितना कमाते थे सब घर में खर्च हो जाता था। बचता कुछ नही था। इसलिए अब हम भाई बहनों के सामने पढकर कोई नौकरी करने के सिवा कोई चारा नही था। मैं अब 25 साल की जवान लड़की हो गयी। मैं भी जवान हो गयी थी और बॉयफ्रेंड बनाकर चुदाने का मन बना रही थी पर पापा हमेशा पढाई की बात करते रहते थे। Teacher Student Ki Chudai:

Teacher aur student ki chudai

“बेटी वंदना!! हमारे घर की हालत तू अच्छे से समझती है। जितना कमाता हूँ सब घर में खर्च हो जाता है। इसलिए बेटी तू पढ़कर कोई नौकरी कर ले और कुछ पैसा कमाकर ला” पापा बोले

उन्होंने मुझे कम्प्यूटर सिखाने के लिए अब टीचर को रख दिया। वो टीचर लगभग 40 साल था। देखने में अधेड़ लगता था। वो मुझे पढाने घर पर ही आने लगा। वो मुझे कप्यूटर सिखाने लगा। मैं अलग कमरे में अकेले में बैठकर उससे पढ़ती थी। उसके सामने मैं सलवार कमीज ही पहनती थी। पर मेरा भरा हुआ बदन देखकर उसका चोदने का दिल करने लग जाता था।

मैं अब काफी खूबसूरत लड़की हो गयी थी। जवानी की चमक मेरे पूरे चेहरे पर आ गयी थी। मेरा बदन अब काफी सेक्सी हो गया था। मेरे दूध 36” के बड़े बड़े हो गये थे और दुप्पटे से भी नही छुप पाते थे। मेरी गांड भी अब 38” की हो गयी थी।

लड़के मुझे देखकर काफी लाइन देने लगे थे। सब मुझे चोदने का जुगाड़ लगा रहे थे। ऐसे में मेरे मास्टर जी मेरी तरफ आकर्षित होने लगी। शुरू शुरू में कुछ महीने उन्होंने कुछ नही किया। सिर्फ मेरी तरफ ध्यान से आँखे फाड़ फाडकर देखते। मैं समझ नही पाती। फिर उन्होंने पढ़ाने के बहाने मुझे यहाँ वहां हाथ लगाना शुरू कर दिया। जब देखो मुझे छूने की कोशिश करते थे। एक दिन मैं नाराज हो गयी।

“मास्टर जी!! आप क्या करना चाहते है। आप मुझे अक्सर ही इधर उधर हाथ लगाते रहते है” मैं नाराज होकर कहने लगी।

“वंदना!! मेरी वाईफ जो अब गुजर चुकी है उसका फेस बिलकुल तुम्हारी तरह था। जब तुमको देखता हूँ तो उसकी याद आ जाती है” वो बोले और विलाप करने लगे

“मत रोईये आप। उसकी मौत कैसे हुई???” मैंने पूछा

“मेरी बेटे को जन्म देते समय मेरी वाईफ गुजर गयी” मास्टर जी बोले

उसके बाद हम दोनों की अच्छी दोस्ती हो गयी। अब उनको और छूट मिल गयी थी। अक्सर ही मेरा हाथ पकड़ लेते और किस भी करने लगे। मुझे भी उनका साथ पसंद आता था क्यूंकि वो काफी अच्छे मास्टर थे। उनको काफी नॉलेज थी। अब उन्होंने मुझे किस करना चालू कर दिया। जब वो पढाकर चले जाते तो भी मैं उनके बारे में सोचती रहती। हमारी फोन पर बात शुरू हो गयी। Teacher Student Ki Chudai:

Teacher and student ki chudai

“क्या कर रही हो??” वो फोन पर पूछते

“आपको याद कर रही हूँ” मैं कहती

“अपनी सलवार खोलो और चूत में ऊँगली डालो” वो कहने लगे

मैंने ऐसा ही किया

“डाल ली उंगली” मैं कही

“अब जल्दी जल्दी अंदर बाहर करो और सोचो की मैं तुमको चोद रहा हूँ” मास्टर जी बोले

मैंने ऐसा ही किया। अपनी चूत में जल्दी जल्दी ऊँगली करने लगी। इस तरह से हमारा फोन पर सेक्स चैट शुरू हो गया। रोज ही हमारी बाते होने लगी। अब मास्टर जी का मुझे चोदने का बड़ा दिल करने लगा। क्यूंकि मैं उनके साथ अलग कमरे में पढ़ती थी इसलिए वहां पर सिर्फ मैं और मास्टर जी होते थे। और कोई नही होता था। 3

अब वो मुझे दरवाजा बंद करके किस करना चालू कर दिए। रोज ही मुझे पढ़ाने के बहाने पकड़ लेते और ओंठो पर किस करने लग जाते थे। मैं काफी खूबसूरत लड़की थी इसलिए मास्टर जी मुझे बहुत पसंद करते थे।

“कहीं आप मुझे किस करके प्रेगनैंट तो नही कर दोगे??” मैंने कहा

“पगली!! तू प्रेगनैंट तो तब होगी जब तेरी चूत चोदूंगा” मास्टर जी बोले

दोस्तों ये चुदाई वाली बात सुनकर मेरा रोम रोम जाग उठा। मेरी बहुत सी सहेलियां चुदाई वाले किस्से सुनाती थी। इसलिए मैं भी बहुत रामांचित हो गयी थी। मैंने भी मास्टर जी को पकड़ लिया और उनके होठो पर होठ रखकर किस और चुम्बन करने लगी। हमारा फोन सेक्स वाला काम चालू रहा। मास्टर ही रोज ही चूत मागने लगे पर मैं मना कर देती थी।

एक दिन बहुत सही जुगाड़ हो गया था। शाम को पापा के बॉस की लड़की की शादी थी। सारे स्टाफ के लोग सुबह ही चले गये थे। बॉस की बात थी मना कैसे कर देते। मेरी पूरी फॅमिली उसी फंकशन में चली गयी। जैसे ही शाम के 5 बजे मास्टर जी आ गये। घर में उन्होंने देखा तो कोई नही है। Teacher Student Ki Chudai:

indian student ki chudai

“आज तुम्हारे फेमिली के सब लोग किधर गये??” मास्टर जी पूछने लगी

“पापा के बॉस की लड़की की शादी है। मुझे भी अभी जाना है। आज घर में खाना नही बना है। सब लोग उधर ही खाना खायेंगे” मैं बोली

फिर हम दोनों अंदर कमरे में जाकर पढने लगे। कुछ देर बाद मास्टर जी शुरू हो गये। मुझे पास बुलाकर अपनी गोद में बिठा लिया।

“वंदना!! आज तुम्हारे घर में कोई नही है। आज मजा लेते है हम दोनों” वो बोले

मैं सिर हिला दी। पहले तो सर ने खूब किस किया और मुझे गर्म कर दिया। फिर मेरे सूट के उपर से दूध को मसलने लगे। मैं “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा सी सी सी” करने लगी। मास्टर जी ने मुझे अपने बाहूपाश में जकड़ लिया और खूब चुम्बन लिया। मेरे गोरे गोरे खूबसूरत फूले गालो पर खूब चुम्मा लिया। फिर अपनी गोद में बिठाकर मेरे 36” के बड़े बड़े दूध दबाने लगे। दोस्तों मेरी चूचियां काफी रसीली थी। जब जब वो दबा रहे थे उनको बड़ा मजा मिल रहा था।

“मास्टर जी आराम से दबाइये!!” मैं कहने लगी

पर वो माने ही नही और जोर जोर से सूट के उपर से मसल डाले। मैं चुदासी लड़की बन गई थी।

“मुझे तेरी रसीली मुसम्मी देखनी है” वो बोले और फिर मेरे सूट को उतरवाने लगे। मैं भी समझ गयी की वो मानेंगे नही। इसलिए मैंने अपना सूट उतार दिया। मेरी बड़ी बड़ी चूचियां जालीदार सफ़ेद ब्रा में कैद थी।

“ओह्ह…. वंदना!! कितनी खूबसूरत हो तुम। जवाब नही तुम्हारा” वो बोले और दोनों चूची को ब्रा के उपर से टच करने लगा। मैं काँप गयी थी। मुझे सनसनी होने लगी। मन में डर था की कही आज मैं प्रेग्नेंट न हो जाऊं। पर इतना मजा मिल रहा था की क्या बताऊँ। मैं उनकी गोद में बैठी हुई थी। वो मेरे दोनों छाती को दबाने लगे और मुझे ब्रा के उपर ही किस करने लगे। खूब चुम्मी ले डाली। अब मेरे कंधे को सहलाने लगे। मुझे सनसनी होने लगी। अजीब सी सिहरन होने लगी। Teacher Student Ki Chudai:

Teacher ne ki student ki chudai

मास्टर जी ने अब मेरी पीठ पर हाथ लगाना चालू कर दिया। मुझे मजा आ रहा था। कुछ देर पीठ से खेलते रहे। दोस्तों मेरी पीठ भी बहुत गोरी थी। बहुत सेक्सी दिखती थी। फिर वो किस करने लगे। मुझे सुरसुरी होने लगी। काफी देर तक मेरी पीठ पर किस किया। फिर ब्रा के हुक को खोलने लगे। अब मैं नंगी होने वाली थी। आज मैं कसके चुदने वाली थी।

इसलिए मेरा दिल भी धकर धकर कर रहा था। मास्टर जी ने ब्रा उतार डाली और पूरी पीठ पर हाथ लगाकर मेरी जवान त्वचा का चिकनापन महसूस करने लगे।

“……अई…अई….अई…..इसस्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….ये क्या कर रहे है मास्टर जी???” मैं डरकर कहा

“तुमसे प्यार कर रहा हूँ। क्या तुमको अच्छा नही लग रहा है??” वो पूछने लगे

मैं चुप हो गयी। अब मास्टर जी का लंड उनके पेंट में खड़ा हो गया। मेरी पीठ को दोनों पंजों से खूब सहलाया। खूब चुम्मा लिया। फिर दांत गड़ाकर वो इमरान हाश्मी बन गये थे। खूब काटा उन्होंने मेरी चिकनी पीठ पर। फिर मुझे घुमाकर अपनी गोद में बिठा लिया। बड़े ही बेसब्र होकर मेरी मस्त मस्त चूची का दीदार करने लगे। दोस्तों मेरे दूध बहुत खूबसूरत थे। सफ़ेद चूचियों पर बड़े बड़े काले गोले थे निपल्स के चारो तरफ। इस वजह से मेरे आम बहुत ही रसीले दिख रहे थे।

मास्टर जी मेरे मम्मो को अपनी प्रोपर्टी समझ लिए और दोनों दूध को दोनों हाथो में लेकर खेलने लगे। पहले तो सहलाते रहे, फिर दबाने लगे। रस निकालने लगे। मैं “… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” करने लगी। मैंने शर्म और डर की वजह से अपनी आँखे बंद कर ली थी। आज तक न ही किसी मर्द ने मुझे चोदा था और न ही किसी ने मेरे मम्मे को हाथ में लेकर दबाया था। इस वजह से मैं बहुत घबराई हुई थी। Teacher Student Ki Chudai:

“आज तेरी मुसम्मी का रस मैं ही पियूंगा!!” मास्टर जी कहने लगे

“तो पी लीजिये!! रोका किसने है आपको” मैं भी किसी छिनाल की तरह बोल दी

उसके बाद उन्होंने मेरी मुसम्मी को मुंह में ले लिया और चूसने लगे। मैं अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..करने लगी। वो दांत चुभा चुभा कर चूसने लगे। मैं सरेंडर हो गयी। मेरी नंगी पीठ पर उन्होंने हाथ लगाकर मुझे थामे रखा था। मास्टर जी कुर्सी पर बैठे थे और मैं उनकी गोद में। वो तबियत भरके मेरे दूध को चूस डाले। फिर दुसरे वाले दूध को भी चूस डाला। ऐसा मजेदार काम करने से मैं चुदासी लड़की बन गयी।

Student ki chudai ki kahani

“बोल वंदना!! आज चुदवाएगी या बहाना मारेगी??” वो पूछने लगे

मेरे खुले बालो में ऊँगली फिराने लगे।

“चुदाउंगी आज आपसे मैं। कोई नखड़ा नही मारूंगी” मैं बोली

“तो चल साली बिस्तर पर!! नंगी हो जा जल्दी से” 40 वर्षीय मास्टर जी बोले

मैं जल्दी से सामने पड़े बिस्तर पर गयी और सलवार और पेंटी उतार डाली। नंगी होकर टाँगे खोलकर पसर गयी। अपने सिर के नीचे मैंने तकिया लगा ली। उधर मेरे मास्टर जी जल्दी जल्दी कपड़े उतारे। कच्छा खोलकर नंगे हुए और लंड हाथ में लेकर फेटने लगे। मैंने पहली बार उनका लौड़ा देखा। 8 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा। मुझे बहुत ख़ुशी मिली।

वो जल्दी जल्दी अपने लौड़े को मुठ देते रहे, पत्थर जैसा सख्त बना लिए। फिर मेरी चूत पर आ गये और मेरी चूत का दीदार करने लगा।

“पैर खोल वंदना!! आज तेरी रसीली चूत का दर्शन कर लूँ” वो बोले

मैंने अपने खूबसूरत गोरे पैर खोल दिए। कुछ देर उन्होंने मेरे पैर की ऊँगली को किस किया और मुंह में लेकर चूसने लगे। मैं काफी खूबसूरत और गोरे रंग वाली लड़की थी इसलिए मेरे पैर भी बहुत सुंदर थे। फिर मेरी टांगो को हाथ से सहलाकर किस करने लगे। मेरी जांघ को उन्होंने खूब सहलाया और चुम्मा लिया। अब मेरी चूत को आँख फाड़कर देखने लगे।

“तेरी चूत तो मस्त है वंदना!!” वो बोले Teacher Student Ki Chudai:

“तो चूस लीजिये ना। आज इसका रस आपको ही चूसना है” मैं बेशर्मी से कही

उसके बाद मास्टर जी का दिल मेरी फुद्दी पर आ गया। मुंह लगा जल्दी जल्दी चाटने लगे। मेरी चुद्दी अच्छे से साफ़ सुथरी थी क्यूंकि मैंने सभी झांटो को अच्छे से साफ़ कर लिया था। मास्टर जी को मेरी चूत बहुत ही खूबसूरत लगी। वो जीभ लगा लगाकर चाटने लगे। मेरे चूत के दाने को दांत से काटने लगे।

Student ki chudai story

मैं “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..”करने लगी। वो चूसते ही चले गये। रुके ही नही। चूस चूसकर मेरी चूत का सारा रस पी लिया। मेरी मस्त मस्त बुर अपनी चिकनाई छोड़ने लगी। मास्टर जी ने 10 मिनट मेरी बुर को मुंह लगाकर खाया और पिया। उसके बाद अपने 8 इंची लौड़े को पकड़कर फेटने लगे। जल्दी जल्दी और तेज तेज। फिर मेरी चूत पर रखकर रगड़ना शुरू कर दिया। मैं कामुक सिस्कारियां लेने लगी। 5 मिनट तक वो रगड़ते रहे जिससे मैं बहुत अधिक गर्म महसूस करने लगे।

“अब मास्टर जी अंदर डाल दीजिये” मैं चुदासी होकर कहने लगी

पर वो भी और मजा लेने के मूड में दिख रहे थे। फिर मेरी चूत की गद्दी को पीटने लगे। अंत में उन्होंने धक्का मार कर लंड अंदर पंहुचा दिया और मुझे चोदने लगे। मैंने अपनी दोनों टांग को अच्छे से खोल दिया जिससे उनको कोई दिक्कत न आये। दोस्तों मेरी चूत का रस काफी देर से निकल रहा था।

इसलिए काफी चिकनी और फिसलनभरी थी। मास्टर जी जल्दी जल्दी कुल्हे हिलाकर मुझे पेलने लगे। मैं बेचैन होकर “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हमममम अहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..” करने लगी। मुझे भी बहुत मजा मिल रहा था और मास्टर जी को भी मिल रहा था। इस तरह से मेरी चुदाई शुरू हो गयी। मास्टर जी आज मेरे साथ सब तरह के गुलछर्रे लूट लेना चाहते थे। इसलिए वो हुमास हुमास के लंड मेरी सेक्सी बुर में दौड़ा रहे थे। मैं सी सी अई अई कर रही थी। मेरी चूत अच्छे से चुद रही थी। काफी देर मुझे ठोका उन्होंने।

“अपने पैर उपर करो वंदना!!” फिर मास्टर जी बोले

मैंने दोनों पैर हवा में उठा लिए। वो जल्दी जल्दी चोदने लगे। मेरी दोनों 36” की बड़ी बड़ी रसीली चूचियां हिलने लगी। जल्दी जल्दी उपर नीचे करके हिल रही थी। Teacher Student Ki Chudai:

Student ki chudai kahani

मैं भी अपनी चूत के होठो को ऊँगली लगाकर जल्दी जल्दी सहलाने लगी। मुझे काफी आनन्द की प्राप्ति हो रही थी। फिर मास्टर जी ने कुछ देर बाद लंड बाहर निकाल लिया और फिर से मेरी चूत को मुंह लगाकर चाटने लगे। मैं “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ…ऊँ…ऊँ….” करने लगी।

“मास्टर जी!! क्या आपको मेरी बुर चाटने में मजा मिलता है??” मैं पूछने लगी

“बहुत मजा मिलता है जान!!” वो बोले

“तो पी लीजिये जी भरकर!!” मैं बोली

उसके बाद 5 मिनट उन्होंने और चूसा। फिर मुझे कुतिया बना दिया। मेरी गांड को जीभ लगाकर जल्दी जल्दी चाटने लगे। मैं मदहोश होने लगी। काफी देर तक मेरी कुवारी गांड को जीभ लगाकर चूसते रहे। फिर लंड डालकर चोदने लगे। मैं दर्द से कराहने लगी। आज पहली बार किसी मर्द से गांड चुदवा रही थी। Teacher Student Ki Chudai:

Teacher or student ki chudai

मास्टर जी ने पहले धीरे धीरे मेरी गांड चुदाई की, फिर तेज तेज करने लगे। मुझे गहराई से चोदने लगे। कुछ देर बाद वो स्खलित होने वाले हो गये और लंड गांड के छेद से निकाल कर मेरे चूतड़ पर माल गिरा दिया।

दोस्तों इस तरह से मेरे मास्टर जी ने मुझे 25 बार चोदा। 15 दिन बाद मुझे MC आनी बंद हो गयी। जिस बात का डर था वही हुआ। मैं प्रेग्नेंट हो गयी थी। फिर मास्टर जी मुझे होस्पिटल ले गये और अबोर्शन करवा दिया।

आपको स्टोरी कैसी लगी मेरे को जरुर बताना और सभी फ्रेंड्स नई नई स्टोरीज के लिए सेक्स कहानियां डॉट कॉम पढ़ते रहना। आप स्टोरी को शेयर भी करना। Teacher Student Ki Chudai:

Read More Sex Stories….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *